251 में सबसे सस्ता स्मार्टफोन बनाने का दावा करने वालों को दिल्ली की अदालत ने किया समन जारी

0

दिल्ली की एक अदालत ने दो करोड़ रुपये के चैक बाउंस मामले में स्मार्टफोन ‘फ्रीडम 251’ बनाने वालों को तलब किया है। स्मार्टफोन ‘फ्रीडम 251’ के बारे में दावा किया गया है कि यह दुनिया का सबसे सस्ता फोन है।

अदालत ने निजी कंपनी मेसर्स आर्यन इंफ्राटेक प्राइवेट लि. की शिकायत पर मेसर्स रिंगिंग बेल्स प्राइवेट लि. (आरबीपीएल), उसके प्रबंध निदेशक मोहित गोयल तथा उसके निदेशक अनमोल गोयल तथा सुमित गोयल एवं सीईओ धारणा गोयल तथा अध्यक्ष अशोक चड्डा को तलब किया है।

Also Read:  ज्यादातर भारतीय वैज्ञानिक धार्मिक हैं: रिपोर्ट
Photo courtesy: Business Standard
Photo courtesy: Business Standard

भाषा की खबर के अनुसार, अपने आदेश में मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट स्निग्धा सरवारिया ने रेखांकित किया कि चैक बाउंस होने के बाद आरोपी को कानूनी नोटिस भेजा गया लेकिन वे भुगतान करने में विफल रहे।

Also Read:  बिहार में आयोजित अंतरराष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन में दलाई लामा के शामिल होने पर भड़का चीन, भारत को दी चेतावनी

अदालत ने कहा, ‘आरोपियों को तलब करने के लिये काफी सामग्री उपलब्ध है, इसीलिए प्रथम दृष्ट्या नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट की धारा 138 के तहत दंड का मामला बनता है।

अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिये 28 अप्रैल की तारीख मुकर्रर की है। शिकायत के अनुसार, आरोपी ने अपनी देनदारी को चुकाने के लिये शिकायकर्ता कंपनी एआईपीएल के पक्ष चैक जारी किया था। हालांकि 28 अक्टूबर को बैंक ने ‘अपर्याप्त कोष’ होने के कारण चैक को लौटा दिया।

Also Read:  भोपाल रैली में बरसे केजरीवाल कहा- नोटबंदी के बहाने बड़े पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही है मोदी सरकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here