फ्रांस पुलिस की बेर्शम हरकत पर फ्रांसीसी गृह मंत्री ने ज़ाहिर की चिंता, बीच पर मुस्लिम महिला की जबरन उतरवाई गई थी बुरकीनी

0

फ्रांस के गृह मंत्री बर्नाड केज़ोनिएव ने मुस्लिम महिलाओं के बुरक़ीनी बैन विवाद पर चिंता ज़ाहिर की है।

मुस्लिम संस्था ‘फ्रेंच परिषद’ ( CFCM ) के साथ एक बैठक के बाद इल मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा

” धर्मनिर्पेक्षता को लागू करने और इस तरह के दूसरे फैसलों को स्वीकार करने का मतलब हरगिज़ ये नहीं है, जो फ्रांस में रहने वाले समुदायों के बीच नफरत की दीवार खड़ी हो या फिर वो एक दूसरे पर दोषारोपण करें”

दरअसल फ्रांस के दर्जनो गांव और शहरों के समुंद्री तटो पर मुस्लिम महिलाओ के बुरकीनी पहनने पर पाबंदी लगा दी गई है। फ्रांस के नीस शहर में हथियार बंद पुलिस के कुछ नुमाइंदों ने भरे बीच पर एक मुस्लिम महिला की जबरन बुरकीनी उतरवाई।

दरअसल बुरकीनी एक स्विमिंग सूट है, जिसमें पूरा शरीर ढका रहता है और इस वजह से मुस्लिम महिलाओं के बीच खासा प्रचलित है। हालांकि पिछले दिनों कांन्स के मेयर डेविड लिसनार्ड ने शहर में बुरकीनी पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया।

नीस भी फ्रांस के उन 14 शहरों में शामिल है, जहां महिलाओं के बुर्कीनी पहनने पर प्रतिबंध है। अधिकारियों का कहना है कि ‘बुर्किनीस’ फ्रांस के धर्मनिरपेक्ष चरित्र के खिलाफ है और इससे तनाव की स्थिति पैदा हो सकती है।

फ्रांस पुलिस की इस ज्यादती को बीच पर मौजूद कुछ लोगों ने अपने कैमरे में कैद कर लिया। जिसके बाद ये तस्वीरे सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

Muslim woman
Photo: The Guardian

फ्रांस यूरोप का पहला मुल्क है जहां हिजाब पहनने पर पाबंदी लगाई गई थी ।

मीडिया रिपोर्ट्स में छपी तस्वीरों में दिख रहा है कि बीच पर लेगिंग्स, ट्यूनिक और स्कार्फ पहने एक महिला को चार पुलिस अधिकारी घेरकर खड़े हैं। इसके बाद वह महिला नीले रंग का ट्यूनिक उतारती दिख रही है

और इसके बाद बुर्कीनी बैन को लेकर टवीटर पर तीखी बहस छिड़ गई। और टवीटर पर लोगों ने इसकी जमकर आलोचना की है।

ये हैं ट्वीवटर से ली गई चंद प्रतिक्रियाए

LEAVE A REPLY