दिल्ली में कथित तौर पर आतंकवादी हमलों की साजिश रचने के आरोप में चार कश्मीरी युवक गिरफ्तार

0
6
दिल्ली
फाइल फोटो

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने शनिवार को कहा कि उसने राष्ट्रीय राजधानी में आतंकवादी हमलों की कथित तौर पर साजिश रचने वाले चार कट्टरपंथी कश्मीरी युवाओं के एक समूह को गिरफ्तार किया है। प्रकोष्ठ ने एक बयान में कहा कि आरोपियों को मध्य दिल्ली के आईटीओ क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया और उनके पास से चार अत्याधुनिक पिस्तौल और 120 से अधिक गोलियां बरामद की गई।

दिल्ली
फाइल फ

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, बयान में कहा गया है कि आरोपियों की पहचान पुलवामा निवासी अल्ताफ अहमद डार (25), मुस्ताक अहमद गनी (27), इश्फाक मजीद कोका (28) और आकिब साफी (22) के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि चारों आरोपी शोपियां के रहने वाले हैं। पुलिस ने बताया, ‘‘इश्फाक मारे गए आतंकवादी और अंसार गजवत उल हिंद के पूर्व प्रमुख बुरहान कोका का बड़ा भाई है।’’ अंसार गजवत उल हिंद जम्मू कश्मीर में आतंकी गुट अलकायदा की शाखा है।

उन्होंने बताया कि बुरहान कोका इस साल 29 अप्रैल को शोपियां के मेलहोरा क्षेत्र में अपने दो साथियों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था। पुलिस ने बताया कि उसकी मौत के बाद उसका बड़ा भाई इश्फाक माजिद कोका से आतंकवादी संगठन के लिए काम करने के वास्ते अंसार गजवत उल हिंद के सदस्यों ने संपर्क किया था।

उन्होंने बताया, ‘‘शुक्रवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि कट्टरपंथी कश्मीरी युवकों के एक समूह के पास हथियारों और गोला बारूद का एक बड़ा जखीरा है और वे आईटीओ और दरियागंज आयेंगे।’’

पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) प्रमोद सिंह कुशवाह ने कहा, ‘‘इसके बाद आईटीओ के निकट एक जाल बिछाया गया और आरोपियों को पकड़ लिया गया।’’ प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ है कि इश्फाक को जिहाद के लिए काम करने के वास्ते अंसार गजवत उल हिंद के मौजूदा सरगना द्वारा कथित तौर पर प्रेरित किया गया था।

उन्होंने बताया कि दिल्ली में ठहरने के दौरान उन्होंने हथियार और गोला बारूद एकत्र किया। कुशवाह ने बताया कि उनकी साजिश आतंकवादी गतिविधि को अंजाम देने की थी और इसके बाद उन्हें औपचारिक रूप से अंसार गजवत उल हिंद में शामिल किया जाता। उन्होंने बताया कि विस्तृत जांच जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here