इस पार्टी के टिकट पर यहां से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ेंगे पूर्व JNU अध्यक्ष कन्हैया कुमार

0

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) स्टूडेंट्स यूनियन (जेएनयूएसयू) के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार बिहार के बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार के तौर पर महागठबंधन (राजद, कांग्रेस, हम और राकांप) के सहयोग से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ेंगे।

कन्हैया कुमार
फाइल फोटो: कन्हैया कुमार

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, भाकपा के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने बताया कि उनकी पार्टी सहित सभी वामदल चाहते हैं कि कन्हैया कुमार बेगूसराय से 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ें। उन्होंने कहा कि राजद और कांग्रेस जैसे अन्य दल भी चाहते हैं कि वह चुनाव लड़ें। राजद प्रमुख लालू प्रसाद के भी इस संबंध में अपनी सहमति दिए जाने की चर्चा के बारे में सत्यनारायण ने कहा कि पूर्व में उनसे हुई वार्ता के दौरान वह एक सीट कन्हैया कुमार के लिए छोड़ देने को लेकर राजी थे।

उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने अगले आम चुनाव में बिहार में छह लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है लेकिन इस बारे में अंतिम निर्णय हमख्याल दलों के साथ वार्ता के बाद लिया जाएगा। जिन छह सीटों पर भाकपा अपना उम्मीदवार उतारना चाहती है, उनमें बेगूसराय, मधुबनी, मोतिहारी, खगड़िया, गया और बांका शामिल हैं।

यह पूछे जाने पर कि क्या कन्हैया कुमार ने बेगूसराय से चुनाव लड़ने को लेकर अपनी सहमति दी है तो सत्यनारायण ने कहा कि इसके लिए वह राजी हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि कन्हैया बेगूसराय से भाकपा के उम्मीदवार होंगे पर महागठबंधन के घटक दलों राजद, कांग्रेस, हम सेक्युलर और राकांपा तथा अन्य वामदल का उन्हें समर्थन प्राप्त होगा।

गौरतलब है कि कन्हैया बेगूसराय जिले के बरौनी प्रखंड के बीहट पंचायत के निवासी हैं, जबकि उनकी मां एक आंगनवाड़ी सेविका तथा उनके पिता एक छोटे किसान हैं। कभी वामपंथियों का गढ माने जाने वाले बेगूसराय से वर्तमान में सांसद सांसद के वरिष्ठ नेता भोला सिंह हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में राजद उम्मीदवार तनवीर हसन दूसरे तथा भाकपा उम्मीदवार राजेंद्र प्रसाद सिंह, जदयू के समर्थन से तीसरे स्थान पर रहे थे।

बता दें कि जेएनयू के पूर्व अध्‍यक्ष कन्‍हैया कुमार के खिलाफ पिछले वर्ष 9 फरवरी को देशद्रोह से जुडी धाराएं लगाते हुए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि कन्‍हैया पर लगे राजद्रोह के आरोप को साबित करने में दिल्ली पुलिस नाकाम साबित हुई थी। इस मामले में दिल्ली पुलिस की ओर से तैयार चार्जशीट से इस बात का खुलासा हुआ था।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here