VIDEO: पूर्व क्रिकेटर और दिवंगत मंत्री चेतन चौहान के साथ अस्पताल में डॉक्टरों ने किया था दुर्व्यवहार, SP MLC सुनील सिंह साजन ने विधान परिषद में किया खुलासा

0

कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद ठीक हो चुके समाजवादी पार्टी (सपा) के विधान परिषद सदस्य (MLC) सुनील सिंह साजन ने लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में इलाज के दौरान अपने कड़वे अनुभव को विधानमंडल के मॉनसून सत्र के दौरान विधान परिषद में साझा किया है, जिसका वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। उन्होंने कोरोना संक्रमण से जिंदगी की जंग हारने से पहले इलाज के लिए एसजीपीजीआई में भर्ती हुए राज्य सरकार के कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के साथ अस्पताल में हुए दुर्व्यवहार को भी बयान किया।

चेतन चौहान

सुनील सिंह साजन ने बताया कि एसजीपीजीआइ के जिस वार्ड के वह भर्ती थे उसी वार्ड में स्वर्गीय चेतन चौहान भी भर्ती थे। चौहान के भर्ती होने के बाद वार्ड के दरवाजे पर पहुंची डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ की टीम ने वहीं से पूछा चेतन कौन है? इस पर मंत्री ने हाथ हिलाकर इशारा किया। इसके बाद टीम ने पूछा, चेतन आपको कब हुआ कोरोना? इसपर उन्होंने डॉक्टरों को अपनी बात बताई। इसके बाद चिकित्सीय टीम के एक स्टाफ ने उनसे पूछा चेतन तुम क्या करते हो? उन्होंने बताया कि मैं कैबिनेट मंत्री हूं। इस पर उनसे पूछा गया कहां के? जब उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के, तो इस पर भी एसजीपीजीआइ की टीम ने नरमी नहीं दिखाई।

सुनील ने आगे बताया कि चिकित्सकों की टीम ने फिर चेतन चौहान से पूछा कि तुम्हारे घर में कौन-कौन संक्रमित हैं। साजन, मंत्री के साथ इस तरह के दुर्व्यवहार पर वह अपने आपको रोक न सके और उन्होंने कहा कि यह वही चेतन चौहान हैं जो इस देश के लिए क्रिकेट भी खेल चुके हैं। यह सुनने के बाद चिकित्सकों की टीम, यह कहते हुए कि अच्छा! यह वही चेतन चौहान हैं और चिकित्सकों की टीम वापस चली गई।

सुनील ने आगे बताया कि, “वो दो दिन तक हमारे बगल में थे। उन्होंने जो घुटन महसूस किया है उसे हम या कोई भी महसूस नहीं कर सकता है। वो कोरोना से हमको-आपको छोड़के नहीं गए, वो सरकार की अव्यवस्था से छोड़ कर हमको गए है।” सुनील का यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, उनके इस वीडियो पर यूजर्स भी तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

बता दें कि, उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का निधन 16 अगस्त को हो गया था। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद चेतन चौहान को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां उन्होंने आखिरी सांस ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here