मध्य प्रदेश: पूर्व BJP विधायक पारुल साहू ने कमलनाथ से की मुलाकात, कांग्रेस में हो सकती हैं शामिल

0

मध्य प्रदेश में होने वाले उपचुनाव की तारीखों का ऐलान अभी नहीं हुआ है, लेकिन सभी दल तैयारियों में जुट गई है। राज्य में 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले जोड़तोड़ की राजनीति भी शुरू हो गई है। इस बीच पूर्व भाजपा विधायक पारुल साहू ने कमलनाथ से मुलाकात कर पार्टी खेमे में खलबली मचा दी है। कमलनाथ और पारुल साहू के बीच मुलाकात की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि पारुल कांग्रेस में शामिल हो सकती हैं। बता दें कि, कमलनाथ लगातार दावा करते रहे हैं कि भाजपा के कई नेता उनके संपर्क में हैं।

चर्चा है कि कांग्रेस सागर जिले के सुरखी सीट से पारुल साहू को उम्मीदवार बना सकती है। इस सीट से ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक मंत्री गोविंद सिंह राजपूत उपचुनाव लड़ रहे हैं। पारुल शुरू से ही गोविंद सिंह राजपूत के खिलाफ है। अगर वह कांग्रेस की सदस्यता ले लेती हैं, तो भाजपा के लिए यह बड़ा झटका माना जाएगा। कुछ दिन पहले भी ग्वालियर-चंबल के भाजपा नेता कांग्रेस में शामिल हुए थे।

गौरतलब है कि, 2013 के चुनाव में भाजपा की पारुल साहू ने कांग्रेस के गोविंद सिंह को शिकस्त दी थी। 2018 में उनका पार्टी ने टिकट काट दिया था। वही, सिंधिया समर्थक गोविंद सिंह राजपूत के भाजपा में शामिल होने के बाद से वह नाराज चल रही हैं। अब वह कांग्रेस में शामिल होती हैं और पार्टी पारुल साहू को अपना उम्मीदवार बनाती है। इसके बाद सुरखी में एक बार फिर मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और पारुल साहू के बीच उपचुनाव में मुकाबला होगा।

बता दें कि, सिंधिया के साथ 22 विधायकों ने भी कमलनाथ सरकार के खिलाफ बगावत छेड़ दी थी। सभी ने अपनी विधानसभा सदस्यता से इस्तीफा देकर सिंधिया के साथ भाजपा का दामन थाम लिया था। इसके बाद 3 और कांग्रेसी विधायकन अपनी सदस्यता छोड़कर भाजपा के पाले में आ गए थे। 3 सीटें विधायकों के निधन से खाली हुई थीं। इन सभी 28 सीटों पर आगामी अक्टूबर मध्य तक उपचुनाव होने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here