ऋषिकेश: लॉकडाउन में घूम रहे थे विदेशी टूरिस्ट, पुलिस ने 500 बार लिखवाया ‘आई एम सॉरी’

0

घातक कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश भर में 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है। लॉकडाउन के कारण पर्यटन स्थल पूरी तरह खाली हैं, मगर ऐसे समय में भी कुछ लोग बाज नहीं आ रहे हैं। इस बीच, उत्तराखंड के ऋषिकेश में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर दस विदेशियों को पुलिस ने एक अनोखी सजा दी। पुलिस ने बेवजह घूम रहे विदेशी सैलानियों से कागज पर 500 बार ‘आई एम सॉरी’ लिखवाया।

Photo: Hindustan Times

शनिवार को लॉकडाउन में चौकी इंचार्ज विनोद कुमार शर्मा अपने साथियों दौरे पर निकले थे। गंगा नदी के किनारे उन्हें कुछ विदेशी पर्यटक घूमते मिले। न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक तपोवन में पुलिस चौकी के प्रभारी विनोद शर्मा ने बताया कि, ‘ये विदेशी नागरिक लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे थे। उन्हें चेतावनी दी गई और घर के अंदर रहने की सलाह दी गई।’

सजा के तौर पर उनसे सादे कागज पर ‘मैंने लॉकडाउन का पालन नहीं किया, मैं माफी मांगती/मांगता हूं’ 500 बार लिखवाया। आई एम सॉरी लिखने वालों में अमेरिका, मेक्सिको, ऑस्ट्रेलिया और इजराइल के नागरिक शामिल थे। पुलिस का मानना है कि इस तरह की सजा ज्यादा प्रभावी होती है।

विदेशी पर्यटकों के बाहर घूमने की घटनाओं पर पुलिस ने शहर के होटलों को सख्त चेतावनी दी है। पुलिस ने कहा है कि बहुत जरूरी होने पर होटल किसी स्थानीय नागरिक के साथ ही विदेशी पर्यटकों को बाहर जाने दें। जो होटल इसे नहीं मानेंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि, उत्तराखंड में कोरोना वायरस के 35 मरीज मिले हैं, इनमें से 5 पूरी तरह ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। सबसे ज्यादा राजधानी देहरादून में 18 मरीज मिले हैं। इसके अलावा नैनीताल में 8, ऊधम सिंह नगर में 4, हरिद्वार में 3, पौड़ी में 1 और अल्मोड़ा में 1 मरीज मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here