रेवाड़ी गैंगरेप केस: गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपी 5 दिन की पुलिस रिमांड पर

0

हरियाणा के रेवाड़ी में 19 साल की CBSE टॉपर और राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित छात्रा से हुए गैंगरेप मामले में पुलिस ने दीन दयाल, डॉक्टर संजीव और मुख्य आरोपी नीशू को सिविल कोर्ट में पेश किया। जिसके बाद कोर्ट ने तीनों आरोपियों को पांच दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया है।

(Manoj Dhaka/HT Photo)

बता दें कि एसआईटी ने रविवार को वारदात के साजिशकर्ता और मुख्य आरोपी नीशू को गिरफ्तार किया था। वारदात में शामिल दो अन्य की तलाश जारी है, जबकि आरोपियों के मददगार कोठरा मालिक और एक डॉक्टर को भी शिकंजे में लिया गया। पुलिस के मुताबिक 19 साल की मेधावी छात्रा से रेप की साजिश आरोपी नीशू ने ही रची थी।

रेवाड़ी के नए एसपी ने इनकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिया है। वहीं, रेवाड़ी गैंगरेप पीड़िता की हालत पर मेडिकल सुपरिंटेंडेंट सुदर्शन पंवर ने बताया, उसकी हालत अब सामान्य है और वह धीरे-धीरे ट्रॉमा से उबर रही है।

इसी बीच, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि मामले में फरार चल रहे दो आरोपियों को पनाह देने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही उन्होंने लोगों से दोनों आरोपियों को शरण न देने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि बाकी बचे दोनों आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा, ‘रेवाड़ी गैंगरेप मामले में पुलिस को कड़ी कार्वाई करने का निर्देश दिया गया है। मामले के दो अन्य आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे दोनों आरोपियों को अपने यहां पनाह न दें। साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों आरोपियों को पनाह देने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यह घटना उस समय हुई जब पीड़ित युवती कोचिंग के बाद घर लौट रही थी तभी आरोपियों ने उसे लिफ्ट देने के बहाने अगवा कर लिया और नशीला पेय पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया। बाद में वे उसे गांव के बस अड्डे पर फेंककर फरार हो गए। पीड़ित युवती कॉलेज में पढ़ती है और वह सीबीएसई टॉपर रह चुकी है। इतना ही नहीं, 19 वर्षीय इस पीड़िता युवती को उसकी प्रतिभा के लिए राष्ट्रपति सम्मानित भी कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here