उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से पहली मौत, 25 साल के युवक का गोरखपुर में चल रहा था इलाज

0

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत होने से खलबली मच गई है। प्रदेश में कोरोना वायरस से यह पहली मौत है। यह घटना गोरखपुर जिले में हुई है। जिस युवक की मौत हुई है, उसकी उम्र 25 साल बताई जा रही है। इतनी कम उम्र में कोरोना से मौत का देश में यह पहला मामला है। बता दें कि, देश में तेजी से फैल रहे घातक कोरोना वायरस से अब तक 38 लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमितों की संख्या 1637 पहुंच गई है।

उत्तर प्रदेश
फाइल फोटो

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, केजीएमयू (लखनऊ) के मीडिया प्रभारी डॉ. सुधीर सिंह ने बताया कि “गोरखपुर से जो सैम्पल आया था, वह जांच में पॉजिटिव मिला है। केजीएमयू से क्रॉस चेक होना था। इसमें भी मामला सही पाया गया।” गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में कोरोना वायरस संक्रमण का यह संदिग्ध बीते रविवार को भर्ती कराया गया था। जांच के लिए इसका सैंपल मंगलवार को भेजा गया था। बुधवार को ही केजीएमयू ने अपनी रिपोर्ट में इसे पॉजिटिव बताया था।

गौरतलब है कि, बस्ती का युवक रविवार को मेडिकल कॉलेज में सांस फूलने की शिकायत लेकर भर्ती हुआ था। पहले उसे मेडिसिन वार्ड में भर्ती किया गया। इसके बाद तबीयत बिगड़ने पर उसे ट्रामा सेंटर के आइसीयू में लाया गया। वहां उसकी मौत हो गई। डॉक्टरों ने संदेह के आधार पर कोरोना संक्रमण की जांच के लिए उसकी लार का नमूना लेकर लैब में भेज दिया। जांच रिपोर्ट संदिग्ध आई थी। उसे पुन: जांच के लिए किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) भेजा गया था। वहां हुई जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आ जाने से मेडिकल कॉलेज में हड़कंप मचा हुआ है। मरीज की देखरेख में दो डॉक्टर, दो स्टाफ नर्स व दो वार्ड ब्वॉय लगे थे। उन्हें तत्काल आइसोलेट करा दिया गया है।

गोरखपुर और बस्ती में यह युवक जिन-जिन अन्य लोगों के सम्पर्क में आया था, उनकी तलाश की जा रही है। आशंका है कि उसकी वजह से कई लोग संक्रमित हो सकते हैं। बीआरडी में युवक की मौत के बाद डॉक्टरों ने मरीज के घरवालों से विदेश यात्रा के बारे में जानकारी मांगी तब वे कन्नी काटने लगे। मामले की गंभीरता को देखते हुए अस्पताल प्रशासन ने मरीज की कोरोना संक्रमण जांच कराने का फैसला किया। जिसके बाद माइक्रोबॉयोलाजी की टीम ने लार का नमूना लिया। उसे जांच के लिए भेजा गया।

मृतक बस्ती जिले का रहने वाला था, प्रशासन ने एहतियातन बस्ती में उसके घर और आसपास के इलाके को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। मोहल्ले को सैनिटाइज किया जा रहा है। वरिष्ठ अफसर मौके पर पहुंच गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 12 घंटे के अंदर देश में कोरोना के 240 केस मिले हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 1637 हो गई है, इनमें से 1466 एक्टिव केस हैं। 133 लोग ठीक हो चुके हैं और 38 लोगों की मौत हो चुकी है।स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बुधवार सुबह ये आंकड़े जारी किए गए हैं। बता दें कि, कोरोना वायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है। 21 दिनों का यह लॉकडाउन 14 अप्रैल तक जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here