उत्तर प्रदेश: उन्नाव रेप पीड़िता एक्सीडेंट मामले में BJP विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाई सहित 10 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज

0

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने कहा है कि अगर उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता चाहती है तो उनकी सरकार राय बरेली मामले की सीबीआई जांच कराने के लिए तैयार है। बता दें कि दुर्घटना में दो लोगों की मौत हो गई थी और पीड़िता और उसके वकील गंभीर रूप से घायल हो गए थे। पीड़िता और उसके वकील महेंद्र सिंह रविवार को दुर्घटना के बाद से लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं। ट्रक के मालिक देवेंद्र सिंह और चालक आशीष पाल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

PTI

इस बीच दुर्घटना मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई और 8 अन्य लोगों के खिलाफ हत्या और हत्या की साजिश रचने का केस दर्ज कर लिया गया है। इस FIR में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के अलावा उनके भाई मनोज कुमार सेंगर का भी नाम है। एफआईआर में 10 लोग नामजद हैं, जबकि 15-20 अज्ञात लोगों के नाम भी शामिल हैं। उन्नाव रेप पीड़िता के चाचा ने यह रायबरेली में एफआईआर दर्ज करवाई है।

वहीं, इस मामले में पीड़िता की मां का कहना है कि हमें पता चला है कि विधायक के लोग जिम्मेदार है। ये लोग पिछले कई दिनों से धमकी दे रहे थे। जब भी हम कोर्ट जाते तो कहते थे कि वह भले जेल में है, लेकिन उनके आदमी बाहर हैं। वह जेल के अंदर मोबाइल फोन इस्तेमाल किया करता था। हमें न्याय चाहिए।

राहुल गांधी का कटाक्ष

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने उन्नाव बलात्कार मामले की पीड़िता के सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल होने की घटना को लेकर सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मौजूदा समय में अगर बलात्कार का आरोपी भाजपा का विधायक हो तो सवाल पूछना मना है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ। भारतीय महिलाओं के लिए एक नया विशेष शिक्षा बुलेटिन है। अगर भाजपा विधायक आपसे बलात्कार का आरोपी हो तो सवाल मत पूछिए।’’

इस मामले में राहुल गांधी की बहन व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता के साथ हुई सड़क दुर्घटना को चौंकाने वाली घटना करार देते हुए सोमवार को उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि आखिर भाजपा सरकार से न्याय की क्या उम्मीद की जा सकती है>

उन्होंने ट्वीट कर कहा, “उन्नाव बलात्कार पीड़िता के साथ सड़क दुर्घटना का हादसा चौंकाने वाला है।” प्रियंका ने सवाल किया, “इस केस में चल रही सीबीआई जांच कहां तक पहुंची? आरोपी विधायक अभी तक भाजपा में क्यों हैं? पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में ढिलाई क्यों?” उन्होंने यह भी पूछा, “इन सवालों के जवाब बिना, क्या भाजपा सरकार से न्याय की कोई उम्मीद की जा सकती है?”

क्या है मामला?

रायबरेली में रविवार को एक बेकाबू ट्रक ने एक कार को टक्कर मार दी, जिसमें उन्नाव दुष्कर्म मामले की पीड़िता युवती, उसके रिश्तेदार और वकील बैठे हुए थे। इस घटना में दो लोगों की मौत हो गयी, जबकि पीड़िता और वकील गंभीर रूप से घायल हो गए। दुष्कर्म मामले के आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर को पिछले साल 13 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था।

उन्नाव के पुलिस अधीक्षक माधव प्रसाद वर्मा ने बताया कि पीड़िता युवती और उसकी दो रिश्तेदार अपने वकील के साथ रायबरेली जेल में बंद उसके(पीड़िता के) चाचा से मिलने जा रहे थे। घटना के बाद पीड़िता की एक करीबी रिश्तेदार की जिला अस्पताल में मौत हो गई, जबकि दूसरे को लखनऊ में ट्रॉमा सेंटर भेजा गया है।

लखनऊ के एडीजी राजीव कृष्ण ने बताया कि घटना में दो महिलाओं की मौत हो गई। युवती और उसके वकील की हालत गंभीर है तथा लखनऊ में ट्रामा सेंटर में उनका उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि पीड़िता के परिवार को सुरक्षा प्रदान की गई थी, लेकिन गनर रविवार को उनके साथ नहीं था। इसकी जांच की जा रही है।

उल्लेखनीय है कि एक लड़की ने वर्ष 2017 में उन्नाव से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाया था। इस मामले में सेंगर को गिरफ्तार किया गया था। लड़की द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लखनऊ स्थित सरकारी आवास के बाहर आत्मदाह की कोशिश किए जाने के बाद यह मामला प्रकाश में आया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here