उत्तर प्रदेश: कन्नौज के तहसीलदार का आरोप- BJP सांसद सुब्रत पाठक ने समर्थकों संग घर में घुसकर पीटा, केस दर्ज

0

देश में तेजी से फैल रहे खरतनाक कोरोना वायरस के बीच उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले के तहसीलदार अरविंद कुमार ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद सुब्रत पाठक पर उनके सरकारी आवास में घुस कर मारपीट करने का आरोप लगाया है। इस मामले में पुलिस ने भाजपा सांसद सुब्रत पाठक सहित कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

सुब्रत पाठक

तहसीलदार ने आरोप लगाया है कि भाजपा सांसद मंगलवार (07 अप्रैल, 2020) को अपने समर्थकों के साथ उनके घर में घुस गए और उनके साथ मारपीट की, पिटाई से उनको काफी चोटें आईं हैं। तहसीलदार का आरोप है कि सांसद तथा उनके समर्थकों ने घर में घुसकर उनकी पत्नी और बच्चों के सामने उन्हें जमीन पर गिरा कर लात-घूंसे से पीटा है। लॉकडाउन के बीच भाजपा सांसद द्वारा मारपीट करने का मामला सामने आने के बाद पूरे जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

हिन्दुस्तान.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, तहसीलदार अरविंद कुमार ने बताया कि मंगलवार दोपहर वह अपने दफ्तर में बैठे थे तभी उनके मोबाइल पर एक फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को स्थानीय सांसद बताते हुए धमकी दी। उनका आरोप था कि उन्होंने शहर के जिन लोगों को राशन वितरण के लिए प्रशासन को सूची भेजी थी उसकी अनदेखी की जा रही है। इसके लिए उन्होंने तहसीलदार पर लापरवाही का आरोप लगाया।

तहसीलदार के अनुसार उन्होंने नायब तहसीलदार से बात करके 10 मिनट में जवाब देने को कहा। आरोप है कि इस पर सांसद ने उन्हें धमकाया। तहसीलदार के मुताबिक उन्होंने फौरन इस मामले की जानकारी सीनियर अफसरों को दी। एसडीएम ने उन्हें अपने दफ्तर से उठ कर पास स्थित आवास पर जाने के लिए कहा। वह वहां से उठकर अपने आवास चले गए।

तहसीलदार का आरोप है कि कुछ देर बाद सांसद अपने समर्थकों के साथ तहसील पहुंचे और उनको आवास से बाहर निकलने को कहा। तहसीलदार के अनुसार वह बाहर निकले तो उनके साथ अभद्रता की गई। इतना ही नहीं सांसद ने समर्थकों के साथ लात-घूसों से पीटना शुरू कर दिया।

डीएम राकेश मिश्र का कहना है कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। संकट की इस घड़ी में सभी को साथ मिलकर काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। वहीं, भाजपा सांसद सुब्रत पाठक का कहना है कि उन पर मारपीट या अभद्रता का आरोप निराधार है। उनके कुछ कार्यकर्ता क्षेत्र में राशन की मांग के लिए तहसील गए थे, उनसे वहां मारपीट हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here