मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ की प्रेस कांफ्रेंस में शामिल कोरोना वायरस संक्रमित पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज

0

पुलिस ने भोपाल के कोरोना वायरस संक्रमित एक पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इस पत्रकार की बेटी के लंदन से वापस लौटने पर पूरे परिवार को घर में पृथक रहने की सलाह दी गई थी। इसके बावजूद यह पत्रकार 20 मार्च को मुख्यमंत्री निवास में तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ की प्रेसवार्ता (प्रेस कांफ्रेंस) में शामिल हुआ था।

कमलनाथ
फाइल फोटो: Indian Express

इस प्रेस कांफ्रेंस के बाद पत्रकार की बेटी और दो दिन बाद स्वयं पत्रकार को कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। वर्तमान में पिता और पुत्री दोनों इलाज के लिए भोपाल के एम्स में भर्ती हैं। समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, भोपाल पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि शहर के श्यामला हिल्स पुलिस थाने में शुक्रवार रात इस पत्रकार के खिलाफ भादंवि की धारा 188 (सरकारी सेवक के कानूनी आदेश की अवहेलना), धारा 269 (उपेक्षापूर्ण कार्य जिससे जीवन के लिए संकटपूर्ण रोग का संक्रमण फैलना संभाव्य हो), धारा 270 (परिद्वेषपूर्ण कार्य, जिससे जीवन के लिए संकटपूर्ण रोग का संक्रमण फैलना संभाव्य हो) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस महामारी से संबंधित सरकार के प्रतिबंधात्मक आदेश का उल्लंघन करने पर पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। सूत्रों ने बताया कि आरोपी पत्रकार की 26 वर्षीय बेटी लंदन में कानून की पढ़ाई कर रही है। 18 मार्च को उसके लंदन से भोपाल आने पर परिवार को घर में पृथक (होम क्वारेंटाइन) की सलाह दी गई। लेकिन उसके आने के दो दिन बाद ही, 20 मार्च को उक्त पत्रकार ने मुख्यमंत्री निवास में तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ की पत्रकार प्रेसवार्ता में हिस्सा लिया।

इस प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने पद से त्यागपत्र देने की घोषणा की थी। इसके बाद पत्रकार की बेटी में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई। दो दिन बाद ही उक्त पत्रकार में भी कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई। इस घटनाक्रम के बाद यहां मीडिया जगत में घबराहट फैल गई क्योंकि इस प्रेसवार्ता में देश और प्रदेश के कई मीडियकर्मी, नेता और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

इस बीच, प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार रात तक मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 33 मरीज पाए गए हैं। इनमें से 16 इंदौर में, आठ जबलपुर में, तीन-तीन भोपाल और उज्जैन में, दो शिवपुरी में तथा एक मरीज ग्वालियर में मिला है। इनमें से इंदौर और उज्जैन के एक-एक मरीज की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here