महिला खिलाड़ी ने डॉक्टर पर लगाया दो साल तक दुष्कर्म करने का आरोप, पुलिस ने शुरु की जांच

0

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित देश के अन्य राज्यों में महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रही हैं। जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में 8 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप-हत्या और उत्तर प्रदेश के उन्नाव बलात्कार सहित देश भर में नाबालिगों से रेप की बढ़ती घटनाओं के बाद देश से लेकर विदेश तक लोगों में गुस्सा है। इसी बीच, अब एक महिला खिलाड़ी ने कर्नाटक के एक डॉक्टर पर कथित-तौर पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है।

महिला खिलाड़ी
प्रतिकात्मक फोटो

समाचार एजेंसी IANS के हवाले से एक न्यूज़ बेवसाइट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र की एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की अग्रणी महिला खिलाड़ी ने कर्नाटक के एक डॉक्टर पर उसके साथ दो साल तक दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। कारवीर पुलिस स्टेशन के जांच अधिकारी दिलीप तिबिले के मुताबिक 33 साल की महिला खिलाड़ी ने इस सप्ताह की शुरुआत में डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। आरोपी डॉक्टर उत्तरी कर्नाटक के गुलबर्ग शहर में रहता है। तिबिले ने कहा, “महिला खिलाड़ी ने अपनी शिकायत में कहा है कि डॉक्टर ने शादी का झांसा देकर दो साल तक उसके साथ दुष्कर्म किया और अब वह अपने वादे से मुकर गया है। आरोपी फरार है, उसे खोजा जा रहा है।”

रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता का कहना है कि वह सोशल मीडिया के मार्फत दिसम्बर 2016 में आरोपी डॉक्टर के सम्पर्क में आई थी। इसके कुछ समय बाद वह आरोपी डॉक्टर से मिलने कोल्हापुर गई, कुछ समय बाद डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी के सामने शादी का प्रस्ताव रखा। महिला ने उसे स्वीकार कर लिया क्योंकि उसे लगा कि डॉक्टर अच्छे परिवेश से ताल्लुक रखता है। शिकायत में कहा गया है कि इस साल मार्च तक डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी को एक बार गोवा और एक बार बेंगलुरू बुलाया और उसका यौन शोषण किया।

महिला ने जब उसे शादी की याद दिलाई तो उसने ऐसा करने से इनकार कर दिया और इस बात पर दोनों के बीच काफी बहस हुई। डॉक्टर के इस व्यवहार से आहत महिला खिलाड़ी ने पुलिस में शिकायत करने की धमकी दी। डॉक्टर ने उसे ऐसा करने से मना किया और कहा कि अगर उसने ऐसा किया तो इसका परिणाम उसे सोशल मीडिया पर भुगतना होगा। डॉक्टर ने महिला खिलाड़ी को जान से मारने की भी धमकी दी।

तिबिले ने कहा कि इस मामले को गम्भीरता से लेते हुए कोल्हापुर पुलिस ने डॉक्टर को पकड़ने के लिए दो टीमें गठित की हैं। महाराष्ट्र पुलिस ने डॉक्टर को पकड़ने और महिला खिलाड़ी को न्याय दिलाने के प्रयासों के तहत कर्नाटक पुलिस से भी मदद मांगी है।

बता दें कि, जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में 8 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप-हत्या और उत्तर प्रदेश के उन्नाव बलात्कार सहित देश भर में नाबालिगों से रेप की बढ़ती घटनाओं पर सख्ती बरतते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय कैबिनेट ने शनिवार (21 अप्रैल) को 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप के दोषियों को मौत की सजा देने को मंजूरी दे दी। इसके बाद अब जल्द ही अध्यादेश जारी होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here