राजनीति के दो रंग: बदसलूकी मामले में महिला पत्रकार के समर्थन में उतरी कांग्रेस, वहीं विकास बराला को बचाने के लिए उतरे थे BJP नेता

0

दिल्ली पुलिस को गुरुवार(10 अगस्त) को एक महिला पत्रकार से छेड़छाड़ की शिकायत मिली। महिला पत्रकार ने जंतर-मंतर पर आयोजित युवा कांग्रेस के एक प्रदर्शन के दौरान कुछ अज्ञात लोगों पर ‘पकड़ने और नोंचने’ का आरोप लगाया।

भाषा की ख़बर के मुताबिक, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमें रिपोर्टर से शिकायत मिली है। हम छेड़छाड़ का मामला दर्ज करने और जांच शुरू करने की प्रक्रिया में हैं, शिकायतकर्ता ने किसी का नाम नहीं लिखा है। एक अंग्रेजी समाचार चैनल में कार्यरत पत्रकार ने टि्वटर पर आपबीती बताई।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, मैं एक पत्रकार हूं। मुझे आईवाईसी(युवा कांग्रेस) की रैली के दौरान पकड़ा गया, जहां कानून व्यवस्था कायम रखने में सरकार की नाकामी के खिलाफ भाषण दिए गए। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अमरीश रंजन पांडेय ने कहा कि भीड़ में किसी ने ‘स्थिति का फायदा उठाया’ उन्होंने घटना की निंदा की।

 

वहीं दूसरी और इस घटना के बाद कांग्रेस के कई नेताओं ने दुख जताते हुए कहा है कि हम सीसीटीवी फुटेज देखेंगे और जो कोई भी दोषी होगा उसे बख्शा नहीं जाएगा। वहीं कुछ अन्य कांग्रेसियों ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्व भीड़ में घुसकर इस तरह की घटना कतो अंजाम देते हैं, हमें सतर्क रहना पड़ेगा।

वहीं दूसरी और अभी हाल ही में हरियाणा बीजेपी के अध्‍यक्ष सुभाष बराला के बेटे द्वारा चंडीगढ़ में कथित रूप से वर्णिका कुंडू का पीछा करने के मामले में विकास बराला और उसके दोस्त को पुलिस ने बुधवार(9 अगस्त) को गिरफ्तार कर लिया है। विकास बराला पर आरोप है कि उसने 5 अगस्त की रात वर्णिका कुंडू नाम की लड़की के साथ चंडीगढ़ में छेड़खानी की थी और उसकी गाड़ी का पीछा भी किया था।

आरोपी युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन गिरफ्तारी के महज तीन घंटों में ही विकास को हरियाणा पुलिस ने जमानत पर छोड़ दिया था। उसी के बाद से ही वर्णिका समेत कई राजनीतिक दलों ने ये आवाज़ उठानी शुरू कर दी कि बाजेपी के नेता का बेटा होने के चलते पुलिस ठीक से काम नहीं कर रही है।

इसके बाद पुलिस ने फिर से चार्जशीट तैयार की विकास को गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद से ही शोसल मीडिया पर वर्णिका कुंडू के साथ छेड़छाड़ के मामले में फंसे विकास बराला को बचाने के लिए सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाया जा रहा है।

ये राजनीती है दोस्तो दो गाडियो का आपस मे टकराव होना टकराव होने से ऐक गाड़ी का ना रुकने के कारण उसके पीछे दूसरी गाड़ी लगा …

Nai-post ni Justice For Vikas Barala noong Miyerkules, Agosto 9, 2017

इतना ही नहीं हरियाणा बीजेपी के उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी ने पीड़िता पर ही सवाल खड़े करते हुए कहा था कि, “वो लड़की इतनी रात को क्यों घूम रही थी? लड़की को 12 बजे के बाहर नहीं घूमना चाहिए था।” साथ ही भट्टी ने ये भी कहा था कि माहौल सही नहीं है और हमें अपनी रक्षा खुद करनी पड़ती है, लड़की को इतनी रात बाहर नहीं घूमना चाहिए था।

इस पूरे मामले को लेकर विपक्षी पार्टीयों ने हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष के ऊपर भी कार्रवाई करने की मांग की थी, जिस पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कहा था कि बेटे के किए के लिए पिता को सजा नहीं दी जा सकती इसलिए सुभाष बराला को पद से नहीं हटाया जाएगा।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here