केरल नन रेप केस: आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ बयान देने वाले फादर कुरियाकोस की संदिग्ध हालात में मौत

0

केरल नन से रेप के मामले में अहम गवाह और आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ गवाही देने वाले फादर कुरियाकोस कट्टूथारा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। कट्टूथारा सोमवार को जालंधर के दासुआ स्थित सेंट मैरी चर्च में मृत पाए गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्हें कई दिनों से धमकी मिल रही थी और कुछ ही पहले ही उनकी कार पर भी हमला हुआ था। फिलहाल अभी यह साफ नहीं है कि यह हत्या या फिर खुदकुशी का मामला है।

60 वर्षीय फादर कुरियाकोस ने नन से रेप मामले में आरोपी बिशप के खिलाफ गवाही दी थी। रेप मामले में गिरफ्तार हुए आरोपी बिशप की पांच दिन पहले ही केरल हाई कोर्ट ने जमानत मंजूर की थी। हालांकि पीड़ित के समर्थन में धरना दे रहीं ननों ने आरोपी बिशप को राजनीतिक रूप से बेहद असरदार बताते हुए कहा था कि उनके बाहर रखने से सुबूत नष्ट किए जा सकते हैं।
दसुया के डीएसपी एआर शर्मा के मुताबिक, फादर कुरियाकोस दसुया के सेंट पॉल्स चर्च में रहते थे और वहीं से उनका शव बरामद किया गया है। उनके शरीर पर किसी चोट के निशान नहीं पाए गए हैं। लेकिन मौका-ए वारदा से ब्लड प्रेशर की गोलियां मिली हैं। वहीं उनके बिस्तर पर उल्टी करने के निशान हैं। मालूम पड़ता है कि मरने से पहले उनको बहुत ज्यादा उल्टियां हुई होंगी। बाकी पूरे केस की अभी जांच की जा रही है।
केरल नन से रेप के मामले में अहम गवाह और आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ गवाही देने वाले फादर कुरियाकोस कट्टूथारा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। कट्टूथारा सोमवार को जालंधर के दासुआ स्थित सेंट मैरी चर्च में मृत पाए गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्हें कई दिनों से धमकी मिल रही थी और कुछ ही पहले ही उनकी कार पर भी हमला हुआ था। फिलहाल अभी यह साफ नहीं है कि यह हत्या या फिर खुदकुशी का मामला है।
60 वर्षीय फादर कुरियाकोस ने नन से रेप मामले में आरोपी बिशप के खिलाफ गवाही दी थी। रेप मामले में गिरफ्तार हुए आरोपी बिशप की पांच दिन पहले ही केरल हाई कोर्ट ने जमानत मंजूर की थी। हालांकि पीड़ित के समर्थन में धरना दे रहीं ननों ने आरोपी बिशप को राजनीतिक रूप से बेहद असरदार बताते हुए कहा था कि उनके बाहर रखने से सुबूत नष्ट किए जा सकते हैं।


दसुया के डीएसपी एआर शर्मा के मुताबिक, फादर कुरियाकोस दसुया के सेंट पॉल्स चर्च में रहते थे और वहीं से उनका शव बरामद किया गया है। उनके शरीर पर किसी चोट के निशान नहीं पाए गए हैं। लेकिन मौका-ए वारदा से ब्लड प्रेशर की गोलियां मिली हैं। वहीं उनके बिस्तर पर उल्टी करने के निशान हैं। मालूम पड़ता है कि मरने से पहले उनको बहुत ज्यादा उल्टियां हुई होंगी। बाकी पूरे केस की अभी जांच की जा रही है।
आपको बता दें कि केरल हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद मुलक्कल 17 अक्टूबर को ही जालंधर पहुंचा है। उसके जालंधर पहुंचने के पांच दिन बाद ही फादर की मौत की खबर आई है। फादर के परिवार का कहना है कि उनकी मौत के पीछे रेप के आरोपी मुलक्कल वजह हो सकते हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि फादर कुरियाकोस को फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ बयान देने के लिए मारा गया है।
आपको बता दें कि केरल हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद मुलक्कल हाल ही में जालंधर पहुंचा है। उसके जालंधर पहुंचने के कुछ दिन बाद ही फादर की मौत की खबर आई है। फादर के परिवार का कहना है कि उनकी मौत के पीछे रेप के आरोपी मुलक्कल वजह हो सकते हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि फादर कुरियाकोस को फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ बयान देने के लिए मारा गया है।

कोट्टायम पुलिस को जून में दिये गये अपने बयान में नन ने आरोप लगाया था कि बिशप मुलक्कल ने मई 2014 में कुरविलांगड़ के एक अतिथिगृह में उसके साथ बलात्कार किया था और बाद में कई मौकों पर उसका यौन शोषण किया। नन ने कहा कि उसकी शिकायतों पर चर्च अधिकारियों के कार्रवाई नहीं करने के बाद उसने पुलिस से संपर्क किया। हालांकि, बिशप ने अपने ऊपर लगे आरापों से इंकार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here