शर्मनाक: छठवीं बार भी हुई बेटी तो कलयुगी पिता ने 3 दिन की बच्ची को उतारा मौत के घाट

0

आज हमारा देश चाहे कितना भी बदल गया है, लेकिन आज भी हमारे समाज में कन्या शिशु हत्या के मामले रुकने का नाम ही नहीं ले रहीं है। जिसका ताजा मामला गुजरात के गांधीनगर से सामने आया है, जो बेहद ही हैरान कर देने वाली है।

बेटी
file photo

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जहां एक 32 वर्षीय व्यक्ति ने कथित रूप से बेटे की चाह में अपनी तीन दिन की मासूम बेटी को मौत के घाट उतार दिया। आरोपी ने बताया कि वह उसकी छठी लड़की थी और वह इस बार बेटे की आश में था। देहगाम तहसील के मोती मसांग गांव के रहने वाले विष्णु राठोड़ को पुलिस ने महिला के पिता की शिकायत के बाद गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि विष्णु और विमला ने 10 साल पहले शादी की थी और दोनों की 5 बेटियां है और यह छठी बेटी थी, जिसकी हत्या हुई है। इस बार जब फिर से बेटी ने जन्म लिया तो आहत होकर पिता ने उसकी हत्या कर दी। विमला के पिता जसवंत जेतसिंह ने पुलिस को बताया कि रविवार शाम को विष्णु अपनी बेटी को देखने के लिए उनके घर आया था, लेकिन उसके बाद उसने चाकू से मासूम की हत्या कर दी।

जेतसिंह ने बताया कि विष्णु ने जब अपनी बेटी पर अटैक किया, तब विमला सो रही थी। स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, बेटी पर अटैक करने के बाद विष्णु वहां से भागने की कोशिश कर रहा था, लेकिन उसे वहीं पर पकड़ लिया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में प्रति 1000 पुरुषों के पीछे 919 महिलाएं हैं। इस साल नीति आयोग ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि 2014-16 में गुजरात में लिंगानुपात प्रति 1000 पुरुषों के पीछे 848 था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here