प्रशासन को पीड़ितों की मदद और रखवाली करनी चाहिए, लेकिन इनकी मानसिकता समझ से परे: प्रियंका गांधी वाड्रा

0

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र हत्याकांड का पीड़ित परिवार मिर्जापुर के चुनार में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से मिलने पहुंचा है। बता दें कि सोनभद्र जाने की जिद पर अड़ी प्रियंका ने कहा था कि अगर प्रशासन चाहे तो कहीं और भी पीड़ितों को उनसे मिलवा सकता है।

प्रियंका गांधी
फोटो: ANI

प्रियंका गांधी वाड्रा ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि पीड़ित परिवार के 15 सदस्य उनसे मिलने आएं लेकिन सिर्फ दो को ही अंदर आने की इजाजत दी गई। उन्होंने पूछा कि बाकी लोगों को बाहर क्यों रोक गया, बाकी लोगों को मुझसे मिलने क्यों नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि भगवान जाने इनकी मानसिकता क्या है।

सोनभद्र हत्याकांड का पीड़ित परिवार मिर्जापुर के चुनार में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मिलने पहुंचा है। खबरों के मुताबिक, प्रशासन पीड़ित परिवार को मिलने से रोक रहा है। इस पर प्रियंका गांधी ने कहा कि जिनसे मैं मिलने आई थी, वो मुझसे मिलने आए हैं। मैं तब से कह रही हूं कि एक बार मुझे पीड़ितों से मिलने तो दें। मैं पूछना चाहती हूं कि पीड़ितों को क्यों रोका जा रहा है। इन्होंने कौन सा अपराध किया है।

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस महासचिव ने कहा कि, “प्रशासन को पीड़ित परिवार की रखवाली करनी चाहिए, इनकी सुरक्षा करनी चाहिए। जब इनके साथ हादसा हो रहा था तो प्रशासन को मदद करनी चाहिए। कुछ नहीं किया, अब यह लोग मुझसे मिलने आए है तो उन्हें यहां पर आने नहीं दिया जा रहा है। प्रशासन की मानसिकता मेरी समझ से बाहर है। आप उनपर थोड़ा दबाव बनाईये, आप मेरे ही पीछे पड़े हैं।”

सोनभद्र हत्याकांड पर जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, “यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। मुझे मिली जानकारी के अनुसार, राज्य सरकार कार्रवाई कर रही है। मुझे लगता है कि राज्य सरकार निष्पक्ष जांच करेगी और दोषियों को दंडित किया जाएगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here