दिल्ली: सिख लड़के के केश काटने की झूठी खबर को लेकर इलाके में फैला तनाव

0

देश की राजधानी दिल्ली के राजौरी गार्डन इलाके में शुक्रवार (17 मार्च) को उस वक्त तनाव फैल गया जब एक सिख लड़के के केश काटने की खबर फैली। गुस्साए लोगों ने थाने का घेराव भी किया, लेकिन जांच के बाद यह पूरी तरह से मनगढ़ंत मामला निकला।

सिख लड़के के केश काटने की झूठी खबर
प्रतीकात्मक चित्र

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मायापुरी चौक के पास रहने वाला 13 साल का सिख लड़का गुरुवार को परीक्षा खत्म होने के बाद उसी रात घर से बाहर निकला था। जब वह थोड़ी देर बाद घर लौटा तो परिवार वाले वाले उसे देखकर हैरान रह गए। लड़के की पग गायब थी और उसके केश कटे हुए थे। परिवार के लोगों ने लड़के से वजह पूछी तो उसने बताया कि वह घर से कुछ दूरी पर अकेला टहल रहा था। उसी दौरान तीन लड़के उसके पास आए और उससे फोन लूटने लगे। उसने विरोध किया तो लुटेरों ने लूट में नाकाम होने से गुस्से में उसके केश काट डाले।

शुक्रवार सुबह होते-होते यह बात वेस्ट दिल्ली के सिख बहुल इलाकों में फैल गई। मामले की खबर पुलिस को भी मिली, पुलिस बच्चे के घर पहुंची। सिख संगठनों से जुड़े लोगों ने राजौरी गार्डन थाने का घेराव कर दिया। वेस्ट दिल्ली के कई थानों की पुलिस और रिजर्व पुलिस फोर्स की टुकड़ियां राजौरी गार्डन भेजी जाने लगी। राजौरी गार्डन में थाने की बिल्डिंग के बाहर भारी पुलिस फोर्स और सिख आमने-सामने आ गए।

पुलिस अफसर लोगों को शांत करने के लिए अपील करने लगे। दूसरी ओर, सिख लड़के से बात करने के लिए सिख पुलिस अफसर को भेजा गया। उन पुलिस अफसर ने पंजाबी भाषा में लड़के से बड़े प्यार से बातें करना शुरू किया। उसके परिवार के लोग भी वहीं मौजूद थे। लड़का सवालों के जवाब देते हुए बार-बार अटक रहा था। पुलिस ने धीरज रखते हुए उससे बातचीत जारी रखी। आखिरकार शाम होते-होते लड़के ने असलियत बता दी। उसने बताया कि वह पग नहीं रखना चाहता था।

वह अपने परिवार से बार-बार हेयर कट के लिए कहता था, लेकिन उसका परिवार उसके केश कटाने के लिए तैयार नहीं था। आखिरकार लड़के ने खुद फैसला किया और रात में अपने घर से कैंची उठा कर बाहर चला गया। बाहर जाकर उसने खुद ही अपनी पग हटाकर केश काट दिए। खुद काटने की वजह से वह पीछे की ओर से कुछ ही केश काटने में कामयाब हुआ। घर आकर उसने लुटेरों के बारे में फर्जी कहानी गढ़ दी।

लड़के के परिवार को उसकी बात सुनकर कोई हैरानी नहीं हुई। उन्होंने पुलिस को बताया कि वह अक्सर हेयर-कट के बारे में जिद करता रहता था। पुलिस ने लड़के से कैंची के बारे में पूछा। उसने फ्लावर-पॉट के पीछे से कैंची निकाल कर पुलिस के हवाले कर दी। डीसीपी वेस्ट विजय कुमार के मुताबिक, लड़के ने खुद मान लिया कि उसने खुद ही अपने केश काटे थे। पुलिस लड़के की उम्र कम होने की वजह से उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here