नोटबंदी पर संसदीय समिति ने उर्जित पटेल से पूछे 10 सवाल- क्‍यों न आपको पद से हटा दिया जाए?

0

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वी थॉमस की अध्यक्षता वाली लोक लेखा समिति (पीएसी) ने (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल को 28 जनवरी को पेश होने के लिए कहा था। और नोटबंदी के मुद्दे पर उर्जित पटेल से 10 सवाल पूछें हैं।

नोटबंदी के फैसले पर रिजर्व बैंक की भूमिका, अर्थव्यवस्था पर इसका असर और पिछले दो महीने से आरबीआई रेगुलेशन्स में आए बदलावों पर उर्जित पटेल से जानकारी मांगी गई है।

Urjit Patel

इंडियन एक्‍सप्रेस की खबर के अनुसार, 30 दिसंबर को भेजे गए सवालों में संसदीय समिति ने आरबीआई गवर्नर से पूछा है कि अगर नकदी निकालने पर पाबंदी लगाने को लेकर कोई कानून नहीं है तो उन पर ”शक्तियों का दुरुपयोग करने के लिए” मुकदमा क्‍यों न चले और उन्‍हें हटाया क्‍यों न जाए। पीएसी ने यह भी जानकारी चाही कि कितनी नकदी पर प्रतिबंध लगा था और उसमें से कितनी बैंकिंग प्रणाली में वापस आ गई है।

ये है आरबीआई गर्वनर से पूछे गए 10 सवाल-

1. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने सदन में कहा है कि विमुद्रीकरण करने का निर्णय आरबीआई और इसके बोर्ड द्वारा लिया गया था। सरकार ने केवल इस पर काम किया । क्‍या आप इससे सहमत हैं?

2. अगर निर्णय वास्तव में आरबीआई का ही था, तो आखिर कब आरबीआई ने तय किया कि मुद्रा विमुद्रीकरण ही भारत के हित में हैं?

3. रातोरात भारत में 500 और 1,000 रुपए के नोट बंद करने के पीछे आरबीआई ने क्‍या कारण पाए?

4. भारतीय रिजर्व बैंक के स्वयं के अनुमान दिखाते हैं कि भारत में सिर्फ 500 करोड़ रुपए की नकली/जाली करंसी है। सकल घरेलू उत्पाद में भारत की नकद 12%, फीसदी था जो कि जापान (18%) और स्विट्जरलैंड (13%) से कम है। उच्च मूल्य वर्ग के नोटों के रूप में मुद्रा का एक हिस्सा भारत में 86% है, लेकिन चीन में 90% और अमेरिका में 81% है। तो, अचानक ऐसी क्‍या जरूरत आ पड़ी थी कि आरबीआई को विमुद्रीकरण का फैसला लेना पड़ा?

5. 8 नवंबर को एक आपात बैठक के लिए बुला भारतीय रिजर्व बैंक बोर्ड के सदस्यों को नोटिस कब भेजा गया था? उनमें से किसने इस बैठक में भाग लिया? कितना समय बैठक चली ? और बैठक का ब्‍योरा कहां है??
6. नोटबंदी की सिफारिश करते हुए कैबिनेट को भेजे गए नोटिस  में, क्‍या आरबीआई ने स्पष्ट रूप से उल्लेख किया था कि इस फैसले का मतलब देश की 86 प्रतिशत नकदी को अवैध करना होगा? आरबीआई उतनी ही नकदी कब तक व्‍यवस्‍था में लौट सकेगी?

7. सेक्‍शन 3 c(v) के तहत 8 नवंबर, 2016 को आरबीआई की अधिसूचना द्वारा बैंक खातों से काउंटर के जरिए 10,000 रुपए प्रतिदिन और 20,000 रुपए प्रति सप्‍ताह निकासी की सीमा तय कर दी गई। एटीएम में भी 2,000 रुपए प्रति दिन निकासी की सीमा लगाई गई। किस कानून और आरबीआई को मिली शक्तियों के तहत लोगों पर अपनी ही नकदी निकालने पर सीमा तय की गई? देश में करंसी नोटों की सीमा तय करने की ताकत आरबीआई को किसने दी? अगर ऐसा कोई नियम आप न बता सकें, तो क्‍यों न आप पर मुकदमा चलाया जाए और शक्‍त‍ियों का दुरुपयोग करने के लिए पद से हटा दिया जाए?

8. पिछले दो महीनों से आरबीआई के रेगुलेशंस में बार-बार बदलाव क्‍यों हुए? कृपया हमें उस आरबीआई अधिकारी का नाम बताएं जिसे निकासी के लिए लोगों पर स्‍याही लगाने का विचार आया? शादी से जुड़ी निकासी वाली अधिसूचना किसने तैयार की थी? अगर यह सब आरबीआई ने नहीं, सरकार ने किया था तो क्‍या अब आरबीआई वित्‍त मंत्रालय का एक विभाग है?

9. कितने नोट बंद किए गए और पुरानी करंसी में से कितना वापस जमा किया जा चुका है? जब 8 नवंबर को आरबीआई ने सरकार को नोटबंदी की सलाह दी तो कितने नोटों के वापस लौटने की संभावना थी?

10. आरबीआई ने आरटीआई के तहत जानकारी देने से मना क्‍यों किया है, वह भी निजी चोट का डर जैसा कारण बताकर? आरटीआई के तहत मांगी जाने वाली जानकारी देने को आरबीआई क्‍यों नहीं दे रहा?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here