लोकसभा चुनाव 2019: दूसरे चरण की वोटिंग शुरू होते ही कई राज्यों में EVM और VVPAT में आई खराबी की वजह से लोगों को करना पड़ा परेशानियों का सामना

0

आज यानी गुरुवार (18 अप्रैल) को लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए मतदान सुबह से जारी है। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी की 95 सीटों के लिए मतदान गुरुवार सुबह सात बजे से शुरू हुआ। इस चरण में कई जाने-माने चेहरों और दिग्गज नेताओं का भाग्य तय होगा। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार दूसरे चरण में 13 राज्यों की 97 लोकसभा सीटों पर मतदान होना था। लेकिन, तमिलनाडु के वेल्लूर में आयकर छापे में 11 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी बरामद होने के बाद मतदान रद्द कर दिया गया है।दूसरे चरण में चुनाव वाली 95 सीटों पर 15.8 करोड़ मतदाता कुल 1635 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे।

(Photo: ANI)

सुबह से ही पोलिंक बूथों पर मतदाताओं में जोश देखने को मिल रहा है और वे अपने पसंदीदा उम्मीदवार को वोट देने के लिए लाइन में लगे हुए हैं। हालांकि, इन सबके बीच कुछ राज्यों में ईवीएम में आई खराबी ने मतदाताओं के उत्साह पर थोड़ा खलल डाल दिया। कुछ जगहों पर ईवीएम में खराबी होने के चलते कई बूथ पर वोटिंग देर से शुरु हुई है।

ओडिशा के बोलंगीर लोकसभा सीट पर वोटिंग कुछ देर के लिए बाधित हुई। वहां ईवीएम में खराबी थी। फिलहाल वोटिंग फिर से शुरू हो चुकी है। इसके अलावा असम के सिलचर में मतदान केंद्र पर वीवीपैट मशीन में खराबी पाई गई। हालांकि, बाद में सिलचर के जिस पोलिंग बूथ पर वीवीपैट मशीन काम नहीं कर रही थी उसे अब ठीक कर दिया गया है। वह मौजूद अफसर ने बताया कि वीवीपैट अब ठीक है और लोग अब अपना वोट दे सकते हैं।

महाराष्ट्र के सोलापुर के शास्त्री नगर में बूथ संख्या 217 पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में खराबी के चलते वोटिंग प्रभावित हुआ। मशीन में खराबी के कारण मतदान अस्थाई रूप से रोक दिया गया। अलीगढ़ के दादों के निनामाई गांव में ईवीएम में खराबी होने के चलते मतदान रोकना पड़ा है। जबकि, हाथरस के विकास खंड के गांव बघना में ईवीएम फेल होने की खबर है।

तो वहीं, मथुरा के बाजना के गांव खानपुर में 1 घंटा की देरी से चालू हुआ मतदान के बाद पहला वोट पड़ा। नंदगांव के बूथ 216 में एक घंटे के बाद भी नहीं हुआ मतदान शुरू। मथुरा के गोवर्धन ब्लॉक के एक पोलिंग बूथ पर ईवीएम में खराबी पाई गई। इस वजह से वोटिंग बाधित हुई और बाहर लंबी लाइन लग गई।

फतेहपुर सीकरी के मोहल्ला नयाबांस स्थित बूथ संख्या 54 में ईवीएम खराब होने से मतदान रोक दिया गया। वहीं इरादतनगर के गांव शेरपुर में ईवीएम खराब होने के कारण मतदान सुबह आठ बजे तक शुरू नहीं हो सका था। पश्चिम बंगाल के राईगंज संसदीय सीट पर ईवीएम सुचारू ढंग से काम नहीं करने के चलते उत्तर दिनाजपुर के बूथ नंबर 29/134 हिन्दी एफपी स्कूल ऑफ उत्तर दिनाजपुर में वोटिंग करीब आठ बजे तक शुरू नहीं हो पाई।

दूसरे चरण में तमिलनाडु की सभी 39 में से 38 लोकसभा सीटों के साथ राज्य की 18 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान जारी है। इसके अलावा बिहार की 40 में से पांच, जम्मू कश्मीर की छह में से दो, उत्तर प्रदेश की 80 में से आठ, कर्नाटक की 28 में से 14, महाराष्ट्र की 48 में से 10 और पश्चिम बंगाल की 42 में से तीन सीटों पर मतदान जारी है। इस चरण में असम और ओडिशा की पांच-पांच सीटों पर भी मतदान हो रहा है।

यूपी की 8 और बिहार की 5 सीटों पर हो रहा मतदान

इस दौर में उत्तर प्रदेश की जिन आठ सीटों पर मतदान हो रहा है, उनमें आगरा, मथुरा, नगीना, अमरोहा, बुलंदशहर, अलीगढ़, हाथरस और फतेहपुर सीकरी शामिल हैं। वहीं, बिहार की पांच लोकसभा सीटों किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर और बांका के लिए भी दूसरे चरण में मतदान हो रहा है। इसके अलावा जम्मू कश्मीर की श्रीनगर और ऊधमपुर सीट के अलावा पश्चिम बंगाल की जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग और रायगंज सीटें भी दूसरे चरण के मतदान में शामिल हैं।

8 बजे तक चलेगा मतदान

इन सभी सीटों पर सुबह सात बजे से शाम पांच से आठ बजे तक मतदान चलेगा, जबकि छत्तीसगढ़ की नक्सल प्रभावित कुछ सीटों पर सुबह सात बजे से दिन में तीन बजे तक और ओडिशा की कुछ सीटों पर सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक मतदान होगा। इसके अलावा जम्मू कश्मीर की दो सीटों सहित उत्तर प्रदेश एवं बिहार सहित अन्य राज्यों की सभी सीटों पर सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होगा। सिर्फ तमिलनाडु की मदुरै सीट पर सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक मतदान चलेगा।

1635 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

दूसरे चरण में चुनाव वाली 95 सीटों पर 15.8 करोड़ मतदाता कुल 1635 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। दूसरे चरण के चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा, द्रमुक नेता दयानिधि मारन, ए राजा, कनिमोई, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष राजबब्बर, बीजेपी की हेमा मालिनी, नेशनल कांफ्रेस के फारुख अब्दुल्ला और बसपा के दानिश अली जैसे दिग्गज नेताओं की किस्मत दांव पर है।

सुरक्षा के व्यापक इंतजाम

आयोग ने मतदान के मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। जम्मू कश्मीर में केंद्रीय सुरक्षा बल की 80 कंपनियां तैनात की गई हैं। वहीं पश्चिम बंगाल की तीन सीटों पर कुछ इलाकों में सुरक्षा के लिहाज से संवेदनशील क्षेत्रों को देखते हुये सुरक्षा बलों की 194 कंपनियां तैनात की गई हैं। लोकसभा की 543 सीटों के लिए सात चरणों में चुनाव होना है। पहले चरण में 11 अप्रैल को हुये चुनाव में 20 राज्यों की 91 सीटों पर मतदान हो चुका है। मतगणना 23 मई को होगी।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here