मेरठ में ईवीएम मशीन की सुरक्षा में लगे गार्ड की संदिग्ध हालत में हत्या

0

मेरठ में इस समय सबसे सुरक्षित इलाका है तो वो है, परतापुर कताई का इलाका। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में हो गई। पुलिस ने घटना को हादसा बताया है जबकि मृतक के परिजन ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस में तहरीर दी है। पीटीआई कि ख़बर के अनुसार, परतापुर थाने के अधिकारियों के अनुसार मृतक का नाम किशनलाल 60 है और वह थाना मेडिकल क्षेत्र के रहने वाले थे।

मेरठ में ईवीएम मशीन की सुरक्षा में लगे

उन्होंने कहा कि किशनलाल को उसके दो लंगूरों के साथ कताई मिल में विधानसभा चुनावों के बाद रखी गई ईवीएम की सुरक्षा के लिए रखा गया था। मिल परिसर में कल जब किशनलाल नहीं मिले तो उसकी तलाश की गई। पुलिस के बताया कि घंटों की तलाश के बाद कताई मिल में ही गटर के अंदर से किशनलाल का शव नग्न अवस्था में पुलिस ने प्रारंभिक जांच के आधार पर घटना को हादसा बताया है। वहीं मृतक के परिजन ने हत्या की आशंका जताते हुए अग्यात व्यक्तियों के खिलाफ तहरीर दी है।
बहरहाल, पुलिस घटना की जांच में जुटी है।

गौरतलब है कि मेरठ में 11 फरवरी को विधानसभा चुनाव हुए थे। चुनाव बाद सभी ईवीएम को परतापुर स्थित कताई मिल में बनाए गए स्ट्रांग कक्ष में सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रखा गया है। यहां बंदर इन सीसीटीवी कैमरों को नुकसान पहुंचाते हैं, ऐसे में लंगूर मालिक किशनलाल को उसके दो लंगूरों के साथ यहां रखा गया था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here