DU के किताब में ‘स्कर्ट की तरह छोटा’ ईमेल लिखने की सलाह पर विवाद

0

दिल्ली विश्वविद्यालय(डीयू) के बिजनेस कम्युनिकेशन के किताब में लिखी एक लाइन से विवाद शुरु हो गया है। बीकॉम की पाठ्यपुस्तक में छात्रों को सलाह दी गई है कि वह ‘स्कर्ट की तरह छोटा’ ईमेल लिखें, जिससे सभी की रूचि बनी रहे। इस सलाह को लेकर विवाद पैदा हो गया है।हिंदुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, हालांकि पुस्तक के लेखक सीबी गुप्ता ने लोगों की भावनाएं आहत होने पर खेद जताते हुए यह उपमा (बयान) अपनी पुस्तक से तत्काल हटाने की बात कही है। बेसिक बिजनेस कम्यूनिकेशन नाम की पुस्तक के लेखक डीयू से संबद्ध एक कॉलेज में वाणिज्य विभाग के पूर्व प्रमुख सीबी गुप्ता हैं।

डीयू के अधिकांश कॉलेजों में बड़े पैमाने पर प्रोफेसरों द्वारा बीकॉम ऑनर्स के छात्रों को इस पाठ्यपुस्तक को पढ़ने की सलाह दी जाती है। इस किताब के प्रकाशन को एक दशक से ज्यादा समय हो चुका है। इसमें कहा गया है कि ईमेल संदेश स्कर्ट की तरह होने चाहिए। यह इतना छोटा हो कि उसमें रूचि बनी रहे और लंबा इतना हो कि सभी महत्वपूर्ण बिंदु इसमें शामिल हो जाएं।खास बात यह है कि किताब दस सालों से सेलेबस में शामिल है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, हालांकि, सोशल मीडिया में जब इस बात को लेकर चर्चा होने लगी और विवाद शुरू हुआ तो लेखक ने अपनी गलती को माना और बताया कि उन्होंने इस लाइन को पब्लिशर से हटाने के लिए कह दिया है।

प्रोफेसर सीबी गुप्ता ने लोगों की भावनाएं आहत होने पर खेद जताते हुए कहा कि यह उपमा एक विदेशी लेखक के लेख से ली गई थी। उन्होंने कहा कि ‘मुझे अंदाजा नहीं था कि इससे भावनाएं आहत होंगी। मैंने पब्लिशर से इस लाइन को हटाने के लिए कह दिया है। मेरा जानबूझकर गलत इरादे से यह लिखने का मतलब नहीं था। मैंने एक विदेशी लेखक के लेख से यह उपमा ली थी।’

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here