चेन्नई: 62 वर्षीय बुजुर्ग महिला ने ABVP के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर सुब्बैया शनमुगम पर लगाया उत्पीड़न का आरोप, पुलिस शिकायत में CCTV फुटेज भी सौंपा

0

तमिलनाडु के चेन्नई शहर के उपनगरीय इलाके में अपने अपार्टमेंट में अकेले रहने वाली 62 वर्षीय विधवा ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर सुब्बैया शनमुगम पर खुद को परेशान करने का आरोप लगाया है। इस सिलिसिले में उन्होंने शनमुगम पर पुलिस में शिकायत भी दी है, जिसमें उन्होंने सुब्बैया शनमुगम पर उत्पीड़न सहित कई आरोप लगाए है।

चेन्नई

बताया गया है कि चेन्नई की एक हाउजिंग सोसाइटी में रहने वाली बुजुर्ग का सोसाइटी में ही कथित तौर पर पार्किंग स्लॉट को लेकर विवाद हो गया था। महिला ने एबीवीपी अध्यक्ष से अपने हिस्से की पार्किंग इस्तेमाल करने के लिए भुगतान करने की मांग की थी। 11 जुलाई को उसने इस सिलसिले में अदमबक्कम पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया। महिला ने पुलिस को सीसीटीवी फुटेज और तस्वीरें भी सौंपी हैं, जिनमें एबीवीपी अध्यक्ष को कथित तौर पर उनके दरवाजे पर ही पेशाब करते देखा जा सकता है।

इस घटना का खुलासा तब हुआ जब महिला के भतीजे बालाजी विजयराघवन ने इस मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखा। बालाजी विजयराघवन एक स्टैंडअप कॉमेडियन भी हैं, उन्होंने पूरे मुद्दे को सोशल मीडिया पर उछाला और कहा कि पुलिस उनके परिजनों की मदद नहीं कर रही है।

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस के सूत्रों ने भी माना है कि महिला की शिकायत पर कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। एक अधिकारी ने कहा, “इस सिलसिले में शिकायत की रसीद दी जा चुकी है।”

एबीवीपी अध्यक्ष शनमुगम इस वक्त किलपॉक मेडिकल कॉलेज और रॉयपेट्टा सरकारी अस्पताल में प्रोफेसर हैं। उन्होंने अपने खिलाफ दर्ज शिकायत को गलत बताया। साथ ही सीसीटीवी फुटेज से भी छेड़छाड़ होने की बात कही। उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों के पीछे गलत उद्देश्य होने की आशंका जताई है। इस मामले में आगे किसी टिप्पणी के लिए उन्होंने एबीवीपी नेतृत्व से बात करने के लिए कहा है।

एबीवीपी की राष्ट्रीय महासचिव निधि त्रिपाठी ने एक बयान में माना कि शनमुगम के परिवार और महिला के बीच पार्किंग को लेकर विवाद था। दोनों परिवारों ने इस बारे में चर्चा भी की थी और (हाउसिंग सोसाइटी ने) भी यह माना है कि महिला के उत्पीड़न के आरोप मामले में दुविधा की वजह से लगाए गए हैं और ये ठीक नहीं हैं। एबीवीपी ने अपमानजनक दावों का हवाला देते हुए महिला के परिवार पर कानूनी कार्रवाई करने की धमकी दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here