दिल्ली: ई रिक्शा चालक की हत्या का मामला सुलझा, एक नाबालिक समेत दो आरोपी गिरफ्तार

0

राष्ट्रीय राजधानी में सार्वजनिक स्थान पर पेशाब करने से रोकने पर ई-रिक्शा चालक रवींद्र की हत्या का मामला सुलझ गया है। पुलिस ने इस हत्याकांड के मास्टरमाइंड शेखर सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, इनमें से एक आरोपी नाबालिक बताया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक, शेखर ने ही अपने नाबालिग साथी के साथ चालक रवींद्र की हत्या की थी। पुलिस ने बताया कि इन दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। बता दें कि बीते शनिवार(27 मई) को राष्ट्रीय राजधानी में सार्वजनिक स्थान पर पेशाब करने से रोकना एक ई-रिक्शा ड्राइवर को भारी पड़ गया और जिंदगी गंवानी पड़ी।

उत्तर पश्चिमी दिल्ली के मेट्रो स्टेशन जीटीबी नगर के बाहर कुछ बदमाशों ने रवींद्र नाम के रिक्शा ड्राइवर को सिर्फ इस बात पर पीट-पीटकर मार डाला कि उसने वहां खुले में पेशाब करने से रोका था। रविंद्र के भाई विजेंदर कुमार का कहना है कि उसने कुछ लड़कों को स्टेशन की दीवार पर कथित तौर पर पेशाब करने से रोका था, जिसके बाद आरोपियों ने पीट-पीटकर मार डाला।

पुलिस ने बताया कि शाम को मृतक रवींद्र ने दो लोगों को मेट्रो स्टेशन के बाहर पेशाब करते हुए देखा और इस पर आपत्ति जताई। तब वे वहां से रविंद्र को बाद में सबक सिखाने की धमकी देकर चले गए। दोनों रात करीब आठ बजे दस और लोगों के साथ वापस आए और उसे बुरी तरह से पीटा।

एक दूसरे ई-रिक्शा चालक ने बीच बचाव करने की कोशिश की, लेकिन आरोपियों ने उसे भी पीटा। रवींद्र को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया है। रवींद्र मेट्रो स्टेशन के पास एक झुग्गी बस्ती में रहता था। उसकी पिछले साल शादी हुई थी और उसकी पत्नी सात महीने की गर्भवती है।

इस मामले में रिक्शा चालक के परिजनों की मदद के लिए दिल्ली और केंद्र सरकार ने हाथ बढ़ाया। सोमवार(29 मई) को मृत रिक्शा चालक के परिजनों को दिल्ली सरकार ने पांच लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की। वहीं, केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू ने परिजनों को 50 हजार रुपये का चेक प्रदान किया।

जबकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख जताते हुए परिवार को 1 लाख रुपये देने का ऐलान किया और दिल्ली पुलिस कमिश्नर को जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया था। इसके अलावा नायडू की सिफारिश के बाद नॉर्थ एमसीडी में मृत ई-रिक्शा चालक की पत्नी को नौकरी मिल गई है। इसकी पुष्टि दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here