नोटबंदी ने ली नवविवाहिता की जान, दहेज़ में नए नोट नही दिए तो ससुराल वालों ने की हत्या

0

नोट बंदी के बाद से देश भर में मौत की बाते सामने आ रहीं हैं किसी की लाईन में लगकर मौत हो रही है तो किसी की आर्थिक तंगी से लेकिन ओडिशा के गंजम जिले में एक नवविवाहित महिला की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गई क्योकिं वो दहेज़ में नए नोट नहीं लाई थी।

ओडिशा

लड़की के परिवार वालों ने दहेज में 1.70 लाख रुपए के पुराने नोट दिए थे नए नोट ना मिलने के कारण परिवार को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ा था जिस कारण अपनी बेटी को उन्होने पुराने नोट ही दहेज़ में दिए।
पुलिस के अनुसार, रंगीपुर गांव की प्रभावती की शादी लक्ष्मी नाहक से हुई थी।  इसके एक दिन पहले ही आठ नवंबर को 500 और 1000 रुपये के नोट अमान्य घोषित कर दिए गए थे। लड़की का परिवार दहेज में 1.70 लाख रुपये नकद देने के लिए तैयार था। लेकिन नोटबंदी होने के बाद उनके पास इतनी बड़ी रकम के नए नोट नहीं थे।
ससुराल वालों ने पुराने नोट लेने से मना करते हुए नए नोट देने के लिए अल्टीमेटम दे दिया।
लड़की की मां कुनू मंडल ने कहा कि उनकी बेटी को ससुराल वालों ने सिर्फ इसलिए मारा डाला क्योंकि वो नए नोट नहीं दे पाए. वो अपराधियों को सजा दिलाना चाहती हैं. पुलिस ने बताया कि दहेज हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here