डोनाल्ड ट्रम्प का नवाज शरीफ को फोन करना भारत-पाक संबंधों के ‘नाजुक संतुलन’ को कर सकता है प्रभावित

0

प्रसिद्ध अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने कहा है कि अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को फोन करना भारत-पाक संबंधों के ‘नाजुक संतुलन को प्रभावित’ कर सकता है।

अखबार ने साथ ही ट्रम्प की आलोचना करते हुए कहा कि उनका लापरवाह तरीके से विदेशी नेताओं को फोन कॉल करना दशकों से चले आ रहे कूटनीतिक चलन को प्रभावित कर रहा है।

ट्रम्प के विश्व नेताओं के साथ बातचीत कर यथास्थिति को प्रभावित करने पर न्यूयॉर्क टाइम्स ने कहा, ‘निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड जे ट्रम्प ने लापरवाह तरीके से विदेशी नेताओं को फोन कॉल कर दशकों के कूटनीतिक चलन को प्रभावित किया।

Also Read:  दाल रोटी मत खाओ, मोदी के गुण गाओ : राहुल गांधी
डोनाल्ड ट्रम्प
janta ka reporter

ट्रम्प ने कूटनीतिक चलन को दरकिनार करते हुए ताइवान के राष्ट्रपति त्साई इंग वेन को फोन किया जिससे चीन नाराज हो सकता है। ट्रम्प 1979 के बाद से ऐसे पहले राष्ट्रपति या निर्वाचित राष्ट्रपति हैं जिन्होंने ताइवान के किसी राष्ट्रपति से फोन पर बात की। अमेरिका ने चीन को मान्यता देते हुए 1979 में ताइवान से कूटनीतिक संबंध तोड़ लिए थे।

Also Read:  गोरखपुर के बाद अब छत्तीसगढ़ के सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से तीन नवजात बच्चों की मौत

भाषा की खबर के अनुसार, गत 30 नवंबर को ट्रम्प ने शरीफ से भी फोन पर बात की। पाकिस्तानी सरकार ने ट्रम्प की बातचीत का ब्यौरा देते हुए कहा कि शरीफ ने इस दौरान ट्रम्प को पाकिस्तान की यात्रा के लिए आमंत्रित किया। वहीं ट्रम्प ने पाकिस्तान को ‘शानदार’ लोगों से भरा एक ‘शानदार’ देश बताया और कहा कि वह राष्ट्रपति के तौर पर वहां ‘आना पसंद करेंगे।

Also Read:  ट्रंप की जीत की भविष्यवाणी करने वाले प्रोफेसर ने कहा - अंत में महाभियोग का सामना करना होगा डोनाल्ड को

निर्वाचित राष्ट्रपति ने शरीफ को भी ‘बेहतरीन’ बताया और पाकिस्तानियों को ‘सबसे बुद्धिमान लोगों से एक’ कहा। उन्होंने साथ ही कहा कि वह ‘‘कोई भी भूमिका निभाने के लिए तैयार एवं इच्छुक हैं जो आप मौजूदा समस्याओं पर ध्यान देने एवं उनके उपाय तलाशने के लिए मुझसे अपेक्षा करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here