जेएनयू के फ़र्ज़ी वीडियो दिखाने पर न्यूज़ चैनलों पर दिल्ली सरकार कर सकती है केस

0

जेएनयू विवाद में एक और नया मोड़ आया है। दिल्ली सरकार उन सारे न्यूज़ चैनलों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज़ करने का मन बना रही है जिन्होंने जेनयू स्टूडेंट यूनियन के नेता का फ़र्ज़ी वीडियो बना कर प्रसारित किया था।

सूत्रों से पता चला है कि फॉरेंसिक रिपोर्ट की खबर आने के बाद दिल्ली सरकार सकते में है।

Also Read:  With no access to news, Arvind Kejriwal starts his 10-day meditation course in Maharashtra

मंगलवार को हमने अपने एक खबर में बताया था कि कैसे हैदराबाद की एक फॉरेंसिक लैब ने इस बात की पुष्टि की कि सात में से दो वीडियो फ़र्ज़ी थे जिनकी वजह से कन्हैया कुमार को देशद्रोह के आरोप में फंसाया गया।

बाद में कन्हैया कुमार को हाई कोर्ट से छह महीने की अंतरिम जमानत मिल गयी।

Also Read:  JNU issues note in missing student case, teachers allege 'Selective Omission'

दिल्ली सरकार में विश्वसनीय सूत्रों का कहना है कि अरविन्द केजरीवाल सरकार टीवी न्यूज़ चैनलों के इस मामले को गंभीरता से ले रही है।

सूत्र ने कहा, “इस बार न्यूज़ चैनलों को सजा मिलेगी और उनकी ये देश को बांटने वाली हरकत बहुत शर्मनाक है। दिल्ली सरकार कभी भी ऐसी स्थिति को बरदाश्त नहीं करेगी।”

Also Read:  गोरखपुर हादसे में मानवता की मिसाल बनकर उभरे डॉ. कफील अहमद, अपनी कार में ढोए 12 सिलेंडर

हालांकि सूत्रों ने अभी तक न्यूज़ चैनलों के नाम का खुलासा नहीं किया है जिनपर दिल्ली सरकार कारवाई करने का मन बना रही है।

चैनलों का नाम पूछने पर जवाब में हमे कहा गया कि इसमें पूछने की क्या जरुरत है? आपको पता है कि ये सब किसने किया।

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here