जेएनयू के फ़र्ज़ी वीडियो दिखाने पर न्यूज़ चैनलों पर दिल्ली सरकार कर सकती है केस

0

जेएनयू विवाद में एक और नया मोड़ आया है। दिल्ली सरकार उन सारे न्यूज़ चैनलों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज़ करने का मन बना रही है जिन्होंने जेनयू स्टूडेंट यूनियन के नेता का फ़र्ज़ी वीडियो बना कर प्रसारित किया था।

सूत्रों से पता चला है कि फॉरेंसिक रिपोर्ट की खबर आने के बाद दिल्ली सरकार सकते में है।

Also Read:  राहुल गांधी के वंशवाद वाले बयान पर भड़के ऋषि कपूर, कहा- मेहनत से कमाएं सम्मान, जबरदस्ती और गुंडागर्दी से नहीं

मंगलवार को हमने अपने एक खबर में बताया था कि कैसे हैदराबाद की एक फॉरेंसिक लैब ने इस बात की पुष्टि की कि सात में से दो वीडियो फ़र्ज़ी थे जिनकी वजह से कन्हैया कुमार को देशद्रोह के आरोप में फंसाया गया।

बाद में कन्हैया कुमार को हाई कोर्ट से छह महीने की अंतरिम जमानत मिल गयी।

Also Read:  AAP workers have "strong objection over one or two names": Chotepur

दिल्ली सरकार में विश्वसनीय सूत्रों का कहना है कि अरविन्द केजरीवाल सरकार टीवी न्यूज़ चैनलों के इस मामले को गंभीरता से ले रही है।

सूत्र ने कहा, “इस बार न्यूज़ चैनलों को सजा मिलेगी और उनकी ये देश को बांटने वाली हरकत बहुत शर्मनाक है। दिल्ली सरकार कभी भी ऐसी स्थिति को बरदाश्त नहीं करेगी।”

Also Read:  कन्हैया कुमार को जमानत: न्यायपालिका अब भी संभावना है।

हालांकि सूत्रों ने अभी तक न्यूज़ चैनलों के नाम का खुलासा नहीं किया है जिनपर दिल्ली सरकार कारवाई करने का मन बना रही है।

चैनलों का नाम पूछने पर जवाब में हमे कहा गया कि इसमें पूछने की क्या जरुरत है? आपको पता है कि ये सब किसने किया।

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here