विकलांग युवती ने PM मोदी से मांगी इच्छा मृत्यु, कहा- सरकार द्वारा योजनाएं बनाने के बावजूद कोई फायदा नहीं

0

भोपाल में लक्ष्मी यादव नाम की विकलांग युवती ने पीएम, राष्ट्रपति, विदेश मंत्री और सीएम शिवराज को पत्र लिख कर पूरे राज्य में नौकरी के लिए अस्वीकार कर दिए जाने के बाद इच्छा मृत्यु की मांग की है।

पत्र में लक्ष्मी ने लिखा है, ‘मैं पिछले 10-12 सालों से नौकरी ढूंढ रही हूँ उच्च शिक्षित होने के बावजूद और विशेष रूप से विकलांग लोगों के लिए तीन प्रतिशत आरक्षण होने के बावुजूद मुझे नौकरी नहीं मिल पायी है।

Also Read:  "Modi ji You spend Rs. 200 crores on ads, but you don’t have money to pay minimum wages to workers"

लक्ष्मी ने आगे लिखा है, ‘मुझे हर जगह यह कहा जा रहा है कि मैं नौकरी करने के क़ाबिल नहीं हूँ कि क्योंकि मैं शारीरिक रूप से विकलांग हूँ | मैं सीढियाँ नहीं चढ़ सकती हूँ |कोई भी मुझे नौकरी दिए बगैर मेरी क़ाबिलियत का कैसे अंदाज़ा लगा सकता है’?

Also Read:  Kashmir's disabled persons protest on World Disability Day

मोदी को लिखी चिट्ठी में लक्ष्मी ने लिखा है, मध्य प्रदेश में विकलांगों के लिए कई योजनाएं हैं लेकिन उसे इसका लाभ नहीं मिल रहा है, कहीं से नौकरी ना मिलने के कारण उसे इच्छामृत्यू की अनुमति दी जाए।

Also Read:  अयोध्या विवाद पर बोले शाहनवाज हुसैन- सुप्रीम कोर्ट का सुझाव एक बड़ा मौका है, हमें इस मौके को अवसर में बदलना चाहिए

मीडिया में खबर आते ही शिवराज सरकार के मंत्री ने लक्ष्मी को कांट्रेक्ट बेस पर बैंक में नौकरी देने का भरोसा दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here