ममता बनर्जी के बाद अब दिग्विजय सिंह ने पाक के खिलाफ भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए एयर स्ट्राइक के मांगे सबूत

0

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बाद मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट में की गई एयर स्टाइक के सबूत जारी करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि जिस तरह अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन के खिलाफ कार्रवाई के सबूत जारी किए थे, उसी तरह हमें भी सबूत जारी करने चाहिए। बता दें कि इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से वायुसेना द्वारा पाकिस्तान में घुसकर की गई एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए सुबूत मांगा था।

सिंह ने शनिवार (2 मार्च) को कहा कि मैं सेना की कार्रवाई पर कोई सवाल नहीं खड़े कर रहा। यह तकनीक का युग है, आज हम बात कर रहे हैं, यह किसी से छुपा नहीं है। खुले में तो सैटेलाइट के माध्यम से सारी तस्वीरें सामने आ जाती हैं। जिस तरह के प्रमाण अमेरिका की सरकार ने ओसाम बिन लादेन के बारे में पूरे विश्व को दिए थे, उसी तरह के प्रमाण हमें भी देने चाहिए।

पीटीआई के मुताबिक, राज्यसभा के 72 वर्षीय सांसद ने एक सवाल पर कहा, “मैं पाकिस्तान स्थित आतंकी ठिकानों के खिलाफ भारतीय वायुसेना की हालिया कार्रवाई पर कोई सवाल नहीं उठा रहा हूं। लेकिन खुले स्थान पर हुए किसी भी घटनाक्रम के बारे में सैटेलाइट तकनीकी के माध्यम से सारी तस्वीरें सामने आ जाती हैं। लिहाजा अमेरिका की सरकार ने ओसामा बिन लादेन के बारे में जिस तरह विश्व के सामने सबूत पेश किए थे, (पाकिस्तान स्थित आतंकी ठिकानों के बारे में) उस तरह का प्रमाण हमें (भारत सरकार) भी देने चाहिए।”

बता दें कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर हवाई हमला किया था, क्योंकि पुलवामा हमले की जिम्मेदारी जैश ने ही ली थी। इस हमले में कई आंतकवादी, उनके प्रशिक्षक और बड़े कमांडर मारे गए।

हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकी को भारत के हवाले करे पाक 

भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को वापस लौटाने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को बधाई देते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि खान को अब “बहादुरी” दिखाते हुए हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकी सरगनाओं को भारत के हवाले कर देना चाहिए।

दिग्विजय ने संवाददाताओं से कहा, “मैं पाकिस्तान के माननीय प्रधानमंत्री इमरान खान को इस बात के लिए बधाई देता हूं कि उन्होंने अच्छे पड़ोसी होने का नया रास्ता दिखाया और भारतीय वायुसेना के जांबाज अधिकारी को हमें वापस लौटा दिया, लेकिन अब उन्हें बहादुरी दिखाते हुए हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे कुख्यात आतंकवादियों को भी हमें सौंप देना चाहिए।”

कांग्रेस नेता ने दावा किया कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और खान की अपनी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नेताओं के मंसूबे थे कि अभिनंदन की स्वदेश वापसी के एवज में हिंदुस्तान के साथ “सौदेबाजी” की जानी चाहिये थी। सिंह ने कहा, “इस सौदेबाजी के बगैर भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर को लौटाए जाने के कारण पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के खिलाफ उनके देश में काफी बयानबाजी की गई है।” (इनपुट

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here