मध्य प्रदेश: कथित गोहत्या मामले में 3 मुसलमानों पर ‘रासुका’ लगाए जाने को लेकर दिग्विजय सिंह ने अपनी सरकार पर उठाए सवाल

0

मध्य प्रदेश की नवनिर्वाचित कांग्रेस सरकार इन दिनों कथित गौ हत्या के एक मामले में मुस्लिम आरोपियों के खिलाफ उठाए गए सख्त कदम को लेकर चर्चा में है। कांग्रेस शासित मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के प्रशासन ने कथित गोहत्या के मामले में तीन मुस्लिम आरोपियों पर खतरनाक एक्ट राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA यानी रासुका) के तहत कार्रवाई की है।

मध्य प्रदेश
file photo

तीन लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (रासुका) के तहत की गई कार्रवाई को लेकर सोशल मीडिया पर कांग्रेस सरकार की तीखी आलोचना हो रही है। इसी बीच, अब इस कार्रवाई पर कांग्रेस के दिग्गज नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाए हैं।

खंडवा में पिछले दिनों तीन लोगों पर हुई रासुका की कार्रवाई को लेकर दिग्विजय सिंह ने संवाददाताओं से कहा, आरोपियों पर गौ हत्या के लिए बने कानून के तहत कार्रवाई की जाना चाहिए थी, रासुका नहीं लगनी चाहिए थी।

बता दें कि मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के प्रशासन ने कथित गोहत्या के मामले में तीन मुस्लिम आरोपियों पर खतरनाक एक्ट रासुका के तहत कार्रवाई की है। बताया गया कि गोवंश की हत्या से सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ने की आशंका थी। शुक्रवार को तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी भी कर ली गई है। जिन तीन आरोपियों पर रासुका लगाया गया है उनका नाम नदीम, शकील और आजम है।

बता दें कि बुधवार को सीपीआई नेता और सांसद डी राजा ने इस कार्रवाई को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से स्पष्टीकरण की मांग की थी। राजा ने कहा कि बीजेपी से लड़ना अलग बात है, लेकिन आप इन चीजों को कैसे सहीं ठहरा सकते हैं? राहुल गांधी को अपनी सरकार के इस कदम पर जवाब देना चाहिए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here