आकाश विजयवर्गीय पर पीएम मोदी बोले- ‘ऐसे लोगों को पार्टी से निकाल देना चाहिए’, दिग्विजय सिंह का तंज- ‘अमित शाह नहीं होने देंगे अपने मित्र के बेटे का नुकसान’

0

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक आकाश विजयवर्गीय के बहाने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए बुधवार को एक के बाद एक ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कहने के बाद भी उन्हें नहीं लगता कि अमित शाह अपने मित्र कैलाश विजयवर्गीय के बेटे का कोई नुकसान होने देंगे।

सिंह ने मंगलवार को ट्वीट करते हुए कहा, “मोदी जी ने कल भाजपा संसदीय दल की बैठक में आकाश के इस बयान के खिलाफ नाराजी प्रकट की और आकाश के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिये। यही नहीं उन भाजपा के कार्यकर्ताओं के खिलाफ भी कार्यवाही करने के निर्देश दिये जिन्होंने जेल से छूटने के बाद उसका स्वागत किया और “हर्ष फायरिंग” की।”

कांग्रेस नेता ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “अगर ऐसा होता है तो मोदी जी आपको बधाई। यदि नहीं होता है तो यही कहेंगे आपकी कथनी और करनी में बहुत अंतर है और आपकी नियत साफ़ नहीं है। मुझे नहीं लगता अमित शाह जी अपने प्रिय मित्र कैलाश वीजावर्गीय के बेटे का कोई नुक्सान होने देंगे। देखते हैं।”

बता दें कि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक सरकारी कर्मचारी पर बल्ले से हमला करने को लेकर पार्टी नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय की निंदा करते हुए मंगलवार को कहा, “बेटा किसी का भी हो, ऐसे लोगों को पार्टी से निकाल देना चाहिए। पीएम मोदी ने यह टिप्पणी संसद में भाजपा संसदीय दल की बैठक के दौरान की।

रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम मोदी ने कहा, “हम ऐसा कोई नेता नहीं चाहते जो पार्टी की छवि को खराब करे। बेटा किसी का भी हो, ऐसे नेताओं को पार्टी से निकाल देना चाहिए।” मोदी इंदौर के भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय का जिक्र कर रहे थे, जिन्होंने 26 जून को नगर निगम के एक अधिकारी पर मकान गिराने के मामले में हमला किया था।

पीएम मोदी ने जेल से छूटने के बाद आकाश विजयवर्गीय का जोरदार स्वागत करने को लेकर भी पार्टी नेताओं की आलोचना की और कहा, “जिन्होंने उनका स्वागत किया, ऐसे नेताओं को भी पार्टी से बर्खास्त किया जाना चाहिए।” बल्ले से पीटने के मामले में आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया था और बाद में उन्हें जमानत दे दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here