आजम खान के बेटे का चुनाव आयोग पर आरोप- ‘मुस्लिम होने की वजह से पिता पर लगाया गया बैन’

0

समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता आजम खान के बेटे अब्दुल्ला ने चुनाव आयोग पर बड़ा आरोप लगाया है। आजम खान पर विवादित बयान के चलते 72 घंटों का प्रतिबंध लगने के बाद उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान ने चुनाव आयोग पर एकतरफा कार्रवाई के आरोप लगाए हैं। अब्दुल्ला खान ने कहा कि चुनाव आयोग ने मुस्लिम होने के कारण उनके पिता के प्रचार पर रोक लगाई है।

Azam Khan

रामपुर की स्वार सीट से सपा विधायक अब्दुल्ला ने एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आयोग ने उन पर चुनाव प्रचार से सिर्फ इसलिए रोका है, क्योंकि वह मुस्लिम हैं। उन्होंने कहा, “चुनाव आयोग ने हम पर एकतरफा कार्रवाई की है। मेरे पिता ने जया प्रदा पर बयान नहीं दिया था, लेकिन चुनाव आयोग ने सफाई का मौका तक नहीं दिया। मैं जानता हूं कि आयोग ने मोदी को खुश करने के लिए बैन लगाया है।”

अब्दुल्ला ने कहा कि प्रतिबंध लगाने से पहले कोई नोटिस नहीं दिया गया था। सही प्रक्रिया का पालन भी नहीं किया गया। प्रतिबंध लगाने से आजम की तहरीक (आंदोलन) कमजोर नहीं होगी, बल्कि और मजबूत होगी। उन्होंने कहा, “हम सब आजम खां हैं, आजम 40 साल से रामपुर की सेवा कर रहे हैं। उन्होंने अपने भाषण में किसी का नाम नहीं लिया था, इसलिए चुनाव आयोग की कार्रवाई अनुचित है। आयोग ने सफाई देने का मौका तक नहीं दिया।”

बता दें कि आजम खान ने एक रैली के दौरान बिना नाम लिए रामपुर से बीजेपी प्रत्याशी जयाप्रदा पर अभद्र टिप्पणी की थी। उनके बयान को लेकर चुनाव आयोग ने उनके प्रचार पर 72 घंटों की रोक लगाने का आदेश दिया है। अब आजम तीन दिन तक चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे।

आजम के अलावा चुनाव आयोग ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर क्रमश: 48 और 72 घंटों तक लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी का प्रचार करने पर रोक लगा दी। आजम, योगी और माया के अलावा आयोग ने सोमवार शाम को ही केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी को भी विवादित बयान देने के मामले में 48 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने से रोक दिया। (इनपुट- एएनआई और आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here