एम्स में डेंगू से नौ लोगों की मौत, मृतकों की संख्या 18 हुयी

0

राष्ट्रीय राजधानी में डेंगू से मरने वालों की संख्या आज 18 हो गई और इनमें से आधे लोगों की मौत अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान :एम्स: में हुई है। दिल्ली में डेंगू के इस साल 1,100 से अधिक मामले सामने आए हैं।

एम्स में डेंगू को लेकर जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘एक सितम्बर से अब तक डेंगू के नौ मरीजों की मौत हुई है।’’ एम्स के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कल इस बात की पुष्टि की थी कि डेंगू से पांच लोगों की मौत हुई है।

भाषा की खबर के अनुसार,रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘एम्स में कुल 96 मरीज भर्ती कराए गए, जिनमें से 56 को छुट्टी दे दी गई। इन मरीजों में 70 फीसदी लोग उत्तर प्रदेश के थे, 10 फीसदी बिहार के और शेष दिल्ली के थे।

मंगलवार तक राष्ट्रीय राजधानी में डेंगू के कारण कम से कम नौ लोगों की मौत हुयी थी। हालांकि दक्षिण दिल्ली नगर निगम एसडीएमसी ने यहां के सभी नगर निकायों की मच्छर जनित बीमारियों की रिपोटरें को संकलित कर मरने वालों की संख्या चार बताई है ।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के बुखार संबंधित क्लीनिकों में हर दिन डेंगू के कई मरीज आ रहे हैं। हालांकि, चिकिनगुनिया से डेंगू के मामले कम है और 13 सितंबर तक 1,440 रक्त के नमूनों में चिकुनगुनिया पाया गया था।

राष्ट्रीय राजधानी में कम से कम 1,158 डेंगू के मामले सामने आए, जिनमें से करीब 390 मामले सितंबर के पहले 10 दिनों में रिकार्ड किये गये थे। यह वह महीना है जिसमें मच्छर जनित बीमारी के मरीजों की तादाद बढ़ने लगती है।

नगर निगम की आज जारी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि इस महीने 387 मामलों की रिपोर्ट मिली है जिसमें पूर्व की गिनती से 50 प्रतिशत से अधिक की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है।

इस सत्र में तीन सितंबर तक 770 से अधिक मामले सामने आने की रिपोर्ट है। इनमें से अकेले अगस्त में 652 मामले सामने आए थे ।

LEAVE A REPLY