Delhi’s water crisis and jantakareporter blog: Who’s telling the truth?

0

On Tuesday, we carried a blog by Irshad Ali of jantakareporter.com on the problem faced by people in a particular lane in Khajuri in Delhi.

Reacting to the story, Delhi’s water minister, Kapil Mishra vehemently denied the allegations made in the blog.

In a series of tweets posted on his page, Mishra accused Irshad of carrying out vendetta because the water department had refused to extend a personal favour to the reporter.

In his next tweet, Mishra posted a screenshot of a response from one of his staff, who too denied Irshad’s allegations adding that the reporter wanted a personal connection and there was no issue facing the residents at large.

Irshad, for his part, has stood by his report and said that minister’s accusation against him was wrong. He’s asked the minister to take ‘neutral’ journalists with camera to the area to verify if people were indeed suffering due to water problem. He said that he will publicly apologise if the content of his blog turned out to be inaccurate.

Here’s his response in Hindi:

आदरणीय कपिल जी, आज आपने जनता के रिर्पोटर पर छपी खबर के जवाब मेें कहा है कि ये पानी कनेक्शन इरशाद अपने घर के लिये मांग रहा था। बहुत दुःख के साथ कहना पद रहा है कि ये कहकर आप ने इस समस्या को एक व्यक्ति की समस्या बन दिया है।

३ जनवरी 2016 को मैंने आपको ईमेल किया जिसकी कापी यहां दी दे रहा हूँ । जिसमें मैंने बताया कि ई ब्लाक गली न. 4 में पिछले 8 महिनोें से पानी नहीं आ रहा, पाइप लाइन कहीं से ब्रेक हो गयी है या प्रेशर नहीं बन रहा है। आप इसे ठीक करा दिजिए। कुछ दिनों बाद एक जई गली से उस खराब पांइट तक की नपाई करता है जो कि 65 फीट बैठती है। इतना ही मैंने कहा हैं।

mail

अगर आप इसको मेरी व्यक्तिगत् बात मानकर डिनाई करते है तो ऐसे किजिए, कुछ मीडियाकर्मियों को अपने साथ लेकर ई ब्लाक गली न. 4 में आकर देख लिजिये वहां लोगो से बात कर लिजिये। आपको सच्चाई पता लग जाएगी। ये मेरे घर के लिये कनेक्शन लेने की बात नहीं है बल्कि उस गली और मौहल्ले की परेशान लोगों की बात है।

जो गली में पाइप लाइन ना होने की वजह से दूर-दूर से पानी भरकर ला रहे है। यहां की महिलाएं और बच्चे गन्दे नालोें से पानी भरकर लाने को मजबूर है। आप आ जाइए गली न. 4 में अपने मीडिया मित्रों को लेकर ये कनेक्शन मुझे चाहिए या उस मोहल्ले और गली को चाहिए। इस बहाने कम से कम आप पहली बार अपने निर्वाचन क्षेत्र में तो आएगें चुनाव जीतने के बाद।

इसलिये आदरणीय मंत्री जी लोगों की समस्या को एक व्यक्ति विशेष की समस्या बताकर पल्ला ना झाडि़ये। कृपया गली न. 4 में पानी पहुंचाने की व्यवस्था करवा दीजिये। और अगर मेरे माफी मांगने से वहां के लोगों को पानी उपलब्ध हो जाता है तो ऐसी हजार माफियां में मांगने को तैयार हूं।
इरशाद अली

LEAVE A REPLY