दिल्ली: केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला, विधायकों का फंड 4 से बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये किया

0

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने विधायकों का फंड बढ़ाने का फैसला किया है। दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए विधायकों को अपने क्षेत्र के विकास के लिए मिलने वाले लोकल एरिया डेवलपमेंट (एलएडी) फंड को 4 करोड़ से बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये कर दिया है। केजरीवाल सरकार के इस फैसले के बाद अब विधायक निधि में 6 करोड़ रुपये का भारी इजाफा हुआ है।

दिल्ली सरकार
(Mohd Zakir/HT Photo)

दिल्ली सरकार ने विधायकों को अपने क्षेत्र के विकास के लिए मिलने वाली राशि को सालाना 4 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये करने के प्रस्ताव को मंगलवार (7 अगस्त) को मंजूरी दे दी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कैबिनेट के फैसले की जानकारी दिल्ली विधानसभा में दी।

दिल्ली विधानसभा को कैबिनेट की बैठक के निर्णय के बारे में जानक सूचित करते हुए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि सभी विधायक मांग कर रहे थे कि विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास निधि को बढ़ाया जाए। सिसोदिया ने विधानसभा को बताया कि कैबिनेट ने विधायक निधि को मौजूदा चार करोड़ रुपये से बढ़ाकर 10 करोड़ रुपये करने का निर्णय किया है।

सिसोदिया ने यह भी बताया कि कैबिनेट ने राष्ट्रीय राजधानी में कई भारतीय भाषाओं जैसे तेलुगु, कश्मीरी, मलयालम, गुजराती समेत अन्य भाषाओं की अकादमी के अलावा विदेशी भाषा अकादमी स्थापित करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है। बता दें कि दिल्ली में एक विधायक को अपने निर्वाचन क्षेत्र में विभिन्न कार्य कराने के लिए एक साल में चार करोड़ रुपये मिलते हैं। दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि कैबिनेट का फैसला इसी साल से लागू किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here