EXCLUSIVE: मुस्लिम छात्र के साथ संबंध को लेकर दिल्ली के टीचर अंकित की नहीं हुई हत्या, मुख्य आरोपी आकाश कश्यप को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0

दिल्ली के जहांगीरपुरी एरिया में 1 अक्टूबर को एक कोचिंग टीचर की गोली मारकर हत्या कर दी गई। 31 वर्षीय अंकित कुमार सुबह अपने ट्यूशन सेंटर पर बच्चों को पढ़ाने के लिए आए ही थे कि तभी अज्ञात हमलावर ने उन्हें गोली मार दी। अभी तक मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा था कि अंकित किसी मुस्लिम लड़की से प्यार करता था, इसलिए उसके भाई ने उसकी हत्या कर दी।

हालांकि, पुलिस ने बाद में लड़की के भाई से पूछताछ के बाद उसे क्लीन चिट दे दी और अब असली आरोपी तक पहुंचने का दावा किया है। हालांकि अब यह आरोप बिल्कुल गलत निकला है। दरअसल, असल कहानी इसके ठीक उलट है। दिल्ली पुलिस ने दावा किया है कि अंकित की हत्या की गुत्थी सुलझा ली है। इस हत्या के पीछे की जो वजह बताई गई है वह सोच से भी परे है।

दरअसल, इस मामले में अब नया मोड़ आ गया है। अब इस मामले में आकाश कश्यप नाम के एक युवक को अंकित के कत्ल के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आकाश भी जहांगीरपुरी का ही रहने वाला है। आकाश ने अंकित का कत्ल इसलिए कर दिया, क्योंकि अंकित उसकी प्रेमिका को कथित तौर पर परेशान कर रहा था। पुलिस ने आरोपी आकाश को यूपी के बागपत से गिरफ्तार किया है। ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में डीसीपी (उत्तरी पश्चिमी) असलम खान ने आकाश को गिरफ्तार किए जाने की पुष्टि की है।

पुलिस का कहना है कि अंकित की हत्या इसलिए की गई, क्योंकि वह आकाश की प्रेमिका को कथित तौर पर परेशान कर रहा था। पुलिस के मुताबिक, मृतक अंकित लड़की को परेशान करता था, जिसकी शिकायत उस लड़की ने अपने दोस्त आकाश से की थी। आकाश और लड़की दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे और शादी भी करना चाहते थे, यही वजह है कि आकाश ने मौका मिलते ही अंकित को कोचिंग सेंटर के अंदर गोली मार दी।

उत्तरी पश्चिमी जिले के डीसीपी असलम खान के मुताबिक, आरोपी आकाश इंजीनियरिंग का छात्र है। आकाश की एक गर्लफ्रेंड है, जो कभी अंकित की कोचिंग में पढ़ती थी। अंकित भी उससे दोस्ती करना चाहता था, लेकिन लड़की को ये पसंद नहीं था। वो अंकित की हरकतों के बारे में अपने प्रेमी आकाश को बताती थी। आकाश इसी बात से नाराज चल रहा था।

इस साल मार्च से ही इंजीनियरिंग का छात्र आकाश ट्यूटर अंकित को सबक सिखाने की कोशिश कर रहा था। उसने बागपत से एक देशी कट्टा खरीदा और अंकित के कत्ल का प्लान बनाया। हालांकि, कोचिंग सेंटर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में उसकी तस्वीर कैद हो गई और वह पकड़ा गया। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल पिस्टल को बरामद कर ली है।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here