किसान आंदोलन पर ट्वीट कर मुश्किल में फंसी कंगना रनौत, सिख संस्था ने भेजा कानूनी नोटिस; ‘अपमानजनक’ ट्वीट पर ‘बिना शर्त माफी’ मांगने की मांग की

0

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) ने भाजपा समर्थक बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को कानूनी नोटिस भेजकर केंद्र के कृषि बिलों के खिलाफ विरोध कर रहे किसानों और कार्यकतार्ओं के खिलाफ उनके ‘अपमानजनक’ ट्वीट के लिए ‘बिना शर्त माफी’ मांगने की मांग की है।

कंगना रनौत
फाइल फोटो

डीएसजीएमसी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा, “हमने कंगना रनौत को उनके अपमानजनक ट्वीट के लिए कानूनी नोटिस भेजा है, जिसमें उन्होंने एक किसान की वृद्ध मां को 100 रुपये में उपलब्ध होने वाली महिला के रूप में दर्शाया है। उनके ट्वीट किसानों के विरोध को राष्ट्रविरोधी बताते हैं। हम किसानों के विरोध पर उनकी असंवेदनशील टिप्पणी के लिए उन्हें बिना शर्त माफी मांगने की मांग करते हैं।

कानूनी नोटिस में कहा गया है कि, ‘कई खबरों में दावा किया गया कि दोनों महिलाएं अलग-अलग हैं और अगर नहीं भी हैं तो उन्हें अपनी राजनीति चमकाने के लिए किसी बुजुर्ग महिला को अपमानित करने का अधिकार नहीं है। यह साफ तौर पर नफरत फैलाने वाला ट्वीट है और जल्द से जल्द इस पर कदम उठाए जाने की जरूरत है।’

यह नोटिस अभिनेत्री के उस ट्वीट के मद्देनजर आया है जिसमें उन्होंने आरोप लगाया है कि ‘शाहीन बाग वाली दादी’ राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न सीमा बिंदुओं पर नए कृषि कानूनों को लेकर विरोध कर रहे किसानों के आंदोलन में शामिल हुई हैं। अभिनेत्री ने बिलकिस बानो सहित एक और बुजुर्ग महिला की तस्वीर के साथ पोस्ट को रीट्वीट किया था और लिखा कि ‘वही दादी’ जो टाइम मैगजीन में छपी थी, ‘जो 100 रुपये में उपलब्ध थी।’

अपने ट्वीट में कंगना रनौत ने लिखा था, “हा हा हा वहीं दादी, जो टाइम मैगजीन में सबसे शक्तिशाली भारतीय बनी थी, और वह 100 में उपलब्ध रहती हैं। पाकिस्तानी पत्रकार ने भारत के लिए अंतर्राष्ट्रीय पीआर को शर्मनाक तरीके से अपहृत किया है। हमें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हमारे लिए बोलने के लिए हमारे अपने लोगों की आवश्यकता है।”

बता दें कि, इस मामले को लेकर कंगना रनौत और पंजाबी अभिनेता-गायक दिलजीत दोसांझ के बीच गुरुवार को शब्दों का युद्ध भी देखा गया। अपने इस ट्वीट को लेकर कंगना रनौत सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई है, लोग जमकर उसकी आलोचना कर रहे हैं। सोशल मीडिया यूजर्स के साथ-साथ कंगना रनौत अब भाजपा नेता के निशाने पर भी आ गई है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता आरपी सिंह ने कंगना रनौत से सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने के लिए कहा है।

गौरतलब है कि, केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर हजारों किसान एक सप्ताह से दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं। इस मुद्दे को सुलझाने के लिए सरकार ने गुरुवार को किसान नेताओं के साथ चौथे दौर की वार्ता की। हालांकि, वार्ता एक बार फिर अनिर्णायक रही। अगला दौर शनिवार के लिए निर्धारित है। (इंपुट: भाषा और आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here