कोरोना वायरस: लॉकडाउन खुलने के बाद दिल्ली मेट्रो में पहले की तरह नहीं मिलेगी एंट्री, यात्रियों के लिए आरोग्य सेतु ऐप और फेस मास्क जरूरी

0

कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के खत्म होने के बाद दिल्ली मेट्रो के चालू होने पर यात्रियों को जांच से पूर्व शरीर से धातु की चीजों को हटाना होगा, मास्क पहनना होगा, मोबाइल में आरोग्य सेतु एप भी रखना होगा और जिन यात्रियों में फ्लू के लक्षण होंगे, उन्हें यात्रा की अनुमति नहीं मिलेगी। केद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) द्वारा तैयार प्रस्ताव ये बातें कही गई हैं।

दिल्ली मेट्रो
फाइल फोटो

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में मेट्रो नेटवर्क की सुरक्षा में तैनात इस अर्धसैनिक बल ने यात्रियों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए एक योजना तैयार की है। समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) और शहरी विकास मंत्रालय के परामर्श के बाद ही सीआईएसएफ की प्रस्तावित योजना को लागू किया जाएगा। मेट्रो के 160 से अधिक स्टेशनों की सुरक्षा के लिए लगभग 12,000 पुरुष और महिला कर्मियों को तैनात करने वाले इस बल की योजना के अनुसार रेल नेटवर्क की सेवाओं को चरणबद्ध तरीके से फिर से शुरू किया जा सकता है।

योजना में कहा गया है कि, ‘’आरोग्य सेतु एप्लिकेशन से जारी ई-पास से कोविड-29 के लक्षण वाले संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान उन्हें मेट्रो के उपयोग से रोका जा सकता है। मेट्रो परिसर में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा साथ ही हर प्रवेश बिंदु पर हैंडवाश और हैंड सैनिटाइजर की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।” प्रस्ताव के अनुसार प्रत्येक स्टेशन में प्रवेश से पूर्व थर्मल जांच की जाएगी और खांसी, जुकाम जैसे फ्लू के लक्षणों के साथ ही जिनका शारीरिक तापमान सामान्य नहीं होगा, उन्हें प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन ने पीटीआई (भाषा) को बताया कि इस प्रस्ताव को यह ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है कि यात्रियों, बल के कर्मियों, डीएमआरसी के कर्मियों और परिसर के अन्य लोगों की गति, सुरक्षा और संरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके। बल ने सुझाव दिया है कि सभी यात्रियों को बेल्ट, बकल्स जैसे धातु की चीजें जांच से पूर्व उतारना हेागा।

बता दें कि, चीन के वुहान शहर से दुनियाभर में फैला जानलेवा कोरोना वायरस पूरे देश में तबाही मचा रहा है। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या भारत में भी लगातार बढ़ती जा रही है और अब तक संक्रमण 718 से अधिक लोगों की जान ले चुका है। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 23,077 से अधिक पर पहुंच गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए 24 मार्च को 14 अप्रैल तक देशभर में लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी लेकिन अब इसकी अवधि को तीन मई तक बढ़ा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here