अरविंद केजरीवाल बोले- दिल्ली में अस्पतालों को आरक्षित करने के संबंध में उपराज्यपाल का फैसला लागू करेंगे

0

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार (10 जून) को कहा कि उनकी सरकार दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों को दिल्ली के लोगों के लिए आरक्षित करने के दिल्ली सरकार के फैसले को रद्द करने वाले उपराज्यपाल के आदेश को लागू करेगी।

ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आकड़ें दिखाते हैं कि दिल्ली में कोरोना वायरस ( कोविड-19) के मामले आने वाले दिनों में उल्लेखनीय रूप से बढ़ेंगे। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली से बाहर के लोग इलाज के लिए शहर आते रहे तो 31 जुलाई तक दिल्ली में 1.5 लाख बिस्तरों की जरूरत पड़ेगी। उन्होंने कहा कि इन 1.5 लाख बिस्तरों में से दिल्ली के लोगों के लिए 80,000 बिस्तरों की जरूरत होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमारे सामने आगे एक बड़ी चुनौती है। हमें एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ना होगा।’’ उन्होंने लोगों से अपील की कि वह कोविड-19 के खिलाफ एक बड़े आंदोलन की तरह लड़ें। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सरकार सभी को इलाज देने की व्यवस्था करने का प्रयास करेगी।

सीएम केजरीवाल ने कहा, ‘‘यह राजनीति करने का समय नहीं है। हमें एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ना होगा।’’ उन्होंने कहा कि अब तक दिल्ली में 31,000 मामले सामने आए हैं और इनमें से 18,000 लोगों का उपचार चल रहा है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here