जाट आंदोलन हुआ स्थगित, सामान्य रहेगी मेट्रो सेवा

0

जाट आंदोलन के मद्देनजर सोमवार को प्रस्तावित दिल्ली कूच स्थगित होने के बाद मेट्रो रेल सेवा भी यथावत बहाल रहेगी। रविवार को जाट आरक्षण संघर्ष समिति के इस फैसले के बाद मेट्रो प्रशासन ने मध्य दिल्ली के 12 स्टेशन बंद करने और दिल्ली से इतर एनसीआर के अन्य शहरों में मेट्रो परिचालन बंद करने के फैसले को वापस ले लिया।

मेट्रो स्टेशन

हालांकि सोमवार को एहतियातन चार स्टेशनों केन्द्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, पटेल चौक और लोक कल्याण मार्ग पर निकास सुविधा बंद रहेगी। इन स्टेशनों पर प्रवेश सुविधा मिलेगी।

मेट्रो प्रशासन की ओर से जारी बयान के मुताबिक रविवार और इसके बाद भी मेट्रो सेवा यथावत बहाल रहेगी। दिल्ली पुलिस के परामर्श पर मेट्रो प्रशासन ने रविवार रात साढ़े ग्यारह बजे से एनसीआर के शहर गाजियाबाद, नोएडा, फरीदाबाद और गुड़गांव से मेट्रो परिचालन बंद करने और रात आठ बजे से मध्य दिल्ली के 12 स्टेशन अग्रिम आदेश तक बंद करने का ऐलान किया था।

लेकिन जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने जाट आरक्षण की मांग को लेकर सरकार और आंदोलनकारियों के बीच समझौता वार्ता सफल होने के बाद दिल्ली कूच का अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज यहां जाट आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में यह घोषणा की।

भाषा की खबर के अनुसार, उन्होंने बताया कि सरकार पांच मुख्य मांगों को समयबद्ध तरीके से पूरा करेगी। बातचीत में केन्द्र सरकार की तरफ से शामिल केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह और विधि राज्य मंत्री पीपी चौधरी ने केन्द्रीय स्तर पर जाटों को आरक्षण देने की राह में आ रही बाधाओं को दूर करने का भरोसा दिलाया।

जिन पांच मांगों को समयबद्ध तरीके से पूरा करने पर सहमति बनी है उनमें राज्य सरकार द्वारा उच्च न्यायालय का फैसला आते ही आरक्षण देने संबंधी विधेयक को लागू करना, आंदोलनकारियों के खिलाफ दर्ज मुकदमों की समीक्षा कर उन्हें वापस लेना, आंदोलन में मारे गए या विकलांग हुए लोगों के आश्रितों को स्थायी नौकरी देना, घायलों को मुआवजा देना और आंदोलनकारियों के खिलाफ इरादतन कार्रवाई करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करना शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here