दिल्ली: प्रदूषण से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार ने केंद्र से मांगे हेलिकॉप्टर

0

केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के वायुमंडल में जमा प्रदूषक तत्वों को पानी के हवाई छिड़काव से नष्ट करने के लिए केंद्र सरकार से हेलिकॉप्टर या कोई अन्य वायुयान मुहैया कराने की मांग की है। बता दें कि दीपावली के बाद से राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण इतना बढ़ गया है कि लोगों के लिए सांस लेना अब सेहतमंद नहीं रह गया है। ऐसे केजरीवाल सरकार यह अनूठा प्रयोग करने की तैयारी कर रही है।Kejriwal warnsदिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखकर कहा है कि तापमान में गिरावट के साथ ही राष्ट्रीय राजधानी के ऊपर जमा प्रदूषक तत्वों की मात्रा में इजाफा हो रहा है। इससे निजात पाने का एकमात्र तरीका हवा में पानी का छिड़काव करना है।

उन्होंने पत्र में लिखा है कि कि समूची दिल्ली के वायुमंडल में मौजूद प्रदूषक तत्वों पीएम 10 और पीएम 2.5 को हटाने के लिए पानी की बौछारों का सहारा लेना पड़ेगा। इस बाबत हुसैन ने डॉ. हर्षवर्धन से हेलिकॉटर या कोई अन्य सक्षम विमान मुहैया कराने की मांग की। उन्होंने डॉ. हर्षवर्धन से यह मामला नागर विमानन मंत्रालय के समक्ष उठाने का अनुरोध किया।

हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया कि इस कवायद में होने वाले व्यय का वहन दिल्ली सरकार करेगी। हुसैन ने कहा कि हाल ही में दिवाली के दौरान बारूद के इस्तेमाल और सर्द मौसम की आमद के बीच पड़ोसी राज्यों में किसानों द्वारा पराली जलाने से दिल्ली के वायुमंडल में प्रदूषक तत्वों की सघनता बढ़ना तय है।

इसके मद्देनजर उन्होंने गत 17 अक्तूबर को सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण एवं निगरानी समिति की बैठक में किये गये फैसले के हवाले से डा. हर्षवर्धन से पानी के हवाई छिडकाव को दिल्ली पर वायु प्रदूषण के गहराते संकट का एकमात्र समाधान बताया। उन्होंने समस्या पर समय रहते काबू पाने के लिए पानी के हवाई छिड़काव हेतु डॉ. हर्षवर्धन से नागर विमानन मंत्रालय से हेलिकॉप्टर या कोई अन्य विमान मुहैया कराने का अनुरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here