महंगी गाड़ी नहीं नकद पुरस्कार चाहती हैं जिमनास्ट दीपा कर्माकर

0

अगरतला में लग्जरी कार के रखरखाव की दिक्कत व्यक्त करने के बाद भारतीय जिमनास्ट दीपा कर्माकर ने अनुरोध किया है कि उन्हें इस वाहन के बजाए इसकी कीमत का नकद पुरस्कार दे देना चाहिए।

हालांकि उन्हें यह वाहन भेंट करने वाली संस्था ने इस मामले पर गौर करने का वादा किया है। कर्मकार ने रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला जिमनास्ट बनकर इतिहास रच दिया था और वह अपनी वाल्ट स्पर्धा में चौथे स्थान पर रही थीं।

हैदराबाद जिला बैडमिंटन संघ के अध्यक्ष चामुंडेश्वरनाथ ने उन्हें उनके प्रदर्शन के लिए बीएमडब्लू कार भेंट की थी। दीपा को महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने सम्मान समारोह में रियो ओलंपिक की पदक विजेता पीवी सिंधू और साक्षी मलिक के साथ कार की चाबियां सौंपी थीं।

दीपा रखरखाव की दिक्कत के कारण अपनी लग्जरी कार वापस करना चाहती हैं क्योंकि अगरतला की सड़कें बीएमडब्लू के लिए काफी संकरी हैं और शहर में बीएमडब्लू गाड़ी का एक भी शोरूम या सर्विस सेंटर नहीं है।

भाषा की खबर के अनुसार, इस 23 वर्षीय खिलाड़ी के कोच बी नंदी ने भी कहा कि उन्होंने भी आग्रह किया कि कार के बराबर की कीमत दीपा के खाते में ट्रांसफर कर दी जानी चाहिए। चामुंडेश्वरनाथ ने कहा कि वह जिमनास्ट से बात करेंगे कि उन्हें वाहन से संबंधित किन दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

LEAVE A REPLY