लॉकडाउन में मजदूरों की मौतों का आंकड़ा केंद्र के पास नहीं, राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में कसा तंज, बोले- “उनका मरना देखा जमाने ने, एक मोदी सरकार है जिसे खबर ना हुई”

0

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों और कोरोना से हुई मौतों पर एक बार मोदी सरकार पर शायरी के जरिए निशाना साधा है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने लॉकडाउन के दौरान मजदूरों की मौत से जुड़ा आंकड़ा सरकार के पास नहीं होने को लेकर मंगलवार को कटाक्ष करते हुए कहा कि श्रमिकों की मौत होना सभी ने देखा, लेकिन सरकार को इसकी खबर नहीं हुई।

राहुल गांधी

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मजदूर मरे और कितनी नौकरियां गयीं।’’ कांग्रेस नेता ने शायराना अंदाज में तंज किया, ‘‘तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पे असर ना हुआ, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे खबर ना हुई।’’

गौरतलब है कि, लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान मारे गए मजदूरों के संदर्भ में आंकड़ा सरकार के पास उपलब्ध नहीं है। संगीता कुमारी सिंह देव, भोला सिंह, कलानिधि वीरस्वामी तथा कुछ अन्य सदस्यों ने सवाल किया था कि क्या लॉकडाउन के दौरान हजारों मजदूरों की मौत हो गई और अगर ऐसा है तो उसका विवरण दें।

इसके साथ ही सरकार से प्रवासी मजदूरों के बारे में कई अहम सवाल किए गए। क्या सरकार प्रवासी मजदूरों के आंकड़े को पहचानने में गलती कर गई। क्या सरकार के पास ऐसा आंकड़ा है कि लॉकडाउन के दौरान कितने मजदूरों की मौत हुई है क्योंकि हजारों मजदूरों के मरने की बात सामने आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here