रायबरेली: NTPC हादसे में मरने वालों की संख्या 26 हुई, घायलों से मिले राहुल गांधी

0

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले के उंचाहार स्थित राष्ट्रीय ताप विद्युत निगम (एनटीपीसी) के संयंत्र का बॉयलर फटने से मरने वालों की संख्या बढ़कर गुरुवार (2 नवंबर) सुबह 26 हो गयी है, जबकि 100 से अधिका घायल हैं। बुधवार (1 नवंबर) को हुए हादसे के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में जारी अपने चुनाव प्रचार अभियान ‘नवसृजन यात्रा’ को स्थगित कर दिया है और वह रायबरेली पहुंच चुके हैं।

@INCIndia

राहुल गांधी ने सबसे पहले पोस्टमार्टम हाउस का दौरा किया, इसके बाद वह सीधा जिला अस्पताल पहुंचे। इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों और घायलों से उन्होंने मुलाकात की। उन्होंने घटना पर दुख जताते हुए पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है। रायबरेली उनकी मां, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का संसदीय क्षेत्र है।

वहीं, रायबरेली से सांसद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ऊंचाहार में हुए हादसे पर दुख जाहिर करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह पीड़ितों की हर संभव सहायता करें। वहीं, इस वक्त मॉरिशस यात्रा पर गये हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर शोक जताते हुए मृतकों के परिजनों और घायलों के लिए सहायता राशि की घोषणा की है।

@INCIndia

चूंकि सीएम योगी देश में नहीं है, उनके स्थान पर उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा घायलों का हालचाल पूछने के लिए रायबरेली जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना में हुई मौतों पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया है। साथ ही गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये तथा अन्य घायलों को 25-25 हजार रुपये आर्थिक मदद की घोषणा की है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उंचाहार हादसे पर शोक जताया है। केंद्रीय बिजली मंत्री आर. के. सिंह ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में हादसे पर दुख जताते हुए लिखा है कि उन्होंने एनटीपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक गुरदीप सिंह को तुरंत मौके पर जाने का निर्देश दिया है।

हादसे के संबंध में गुरुवार सुबह पत्रकारों को जानकारी देते हुए लखनऊ में गृह विभाग के प्रधान सचिव अरविंद कुमार ने बताया कि बॉयलर फटने की घटना में कल रात और 10 लोगों की मौत हो गयी। इसके साथ ही हादसे में मरने वालों की संख्या 26 हो गई है। कल देर शाम तक हादसे में 16 लोगों के मरने की पुष्टि हुई थी।

रायबरेली के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डी. के. सिंह ने बताया कि हादसे में घायल करीब 60 लोगों का इलाज जिला अस्पताल तथा लखनऊ के ट्रामा सेंटर में चल रहा है। मालूम हो कि कल शाम ऊंचाहार स्थित एनटीपीसी के 500 मेगावाट क्षमता वाले संयंत्र का बॉयलर फटने से बड़ी संख्या में मजदूर घायल हो गए थे। घायलों में से अभी तक 26 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है।

इस बीच गंभीर रूप से घायल मजदूरों को ग्रीन कॉरिडोर बनाकर दिल्ली भेजे जाने की तैयारी की जा रही है। लगभग 100 से ज्यादा मजदूरों का रायबरेली, लखनऊ और इलाहाबाद के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। जबकि तीन वरिष्ठ अधिकारियों को एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली भेजा गया है। एनटीपीसी ने धमाके के कारणों का पता लगाने के लिये जांच शुरू कर दी है। रायबरेली जिले की ऊंचाहार तहसील राजधानी लखनऊ से 110 किलोमीटर दूर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here