रेप पर विवादित बयान को लेकर स्वाति मालीवाल ने अपने पति को दी नसीहत, कहा- बोलते वक्त सावधानी बरतें

0

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने अपने पति नवीन जयहिंद को गुस्से पर काबू करने और बोलते समय सावधानी बरतने की नसीहत दी है। बता दें कि हरियाणा के रेवाड़ी में 19 साल की CBSE टॉपर और राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित छात्रा से हुए गैंगरेप मामले में प्रतिक्रिया देने के दौरान आम आदमी पार्टी (AAP) के हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने विवादास्पद बयान दिया था।

file photo

नवीन जयहिंद ने रेप की घटनाओं पर बीजेपी नेताओं को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि अगर कोई बीजेपी नेता 10 लोगों से कुकर्म करवाता है तो वह उसे 20 लाख रुपये देंगे। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के पति जयहिंद ने रेवाड़ी गैंगरेप पीड़िता को मुआवजे के तौर पर केवल दो लाख रुपये दिए जाने पर हरियाणा में बीजेपी सरकार की निंदा करते हुए यह टिप्पणी की थी।

पति की टिप्पणी पर स्वाति मालीवाल ने कहा- मुझे उनके गुस्से और दर्द से सहानुभूति है, मगर जो उन्होंने बोला, उससे जरा भी नहीं। मैं उनके बयान से सहमत नहीं हूं, इसकी निंदा करती हूं। मैं नवीन जयहिंद को सुझाव देती हूं कि सार्वजनिक रूप से इस तरह गुस्से का इजहार उचित नहीं है। आपको बोलते समय सावधानी बरतनी चाहिए।

आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को कहा कि उसकी हरियाणा इकाई के प्रमुख नवीन जयहिंद हरियाणा में सामूहिक दुष्कर्म मामले को लेकर बीजेपी सरकार की निंदा करते समय अपने विचारों को सही ढंग से व्यक्त नहीं कर पाए। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के पति जयहिंद ने राज्य में 19 साल की एक लड़की से कथित सामूहिक दुष्कर्म को लेकर एक नया विवाद खड़ा करते हुए कहा, ‘‘अगर कोई बीजेपी नेता 10 लोगों से कुकर्म करवाए, तो वह उसे 20 लाख रुपये देंगे।’’

उन्होंने सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को मुआवजे के तौर पर केवल दो लाख रुपये दिए जाने पर हरियाणा की भाजपा सरकार की निंदा करते हुए यह टिप्पणी की थी। आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता आतिशी मर्लिना ने पत्रकारों से कहा, ‘‘सरकार सोचती है कि वह पीड़िता को दो लाख रुपये का मुआवजा देकर मामले को दफना सकती है लेकिन ऐसा नहीं होगा।

जयहिंद केवल इस मुद्दे को उठाने की कोशिश कर रहे थे। शायद जिस ढंग से उन्होंने व्यक्त किया, वह सही नहीं था।’’ जब जयहिंद से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि वह अपने बयान पर कायम हैं। उन्होंने फोन पर कहा, ‘‘मैंने जो कहा मैं उस पर कायम हूं। आप समाज में किसी भी महिला का अपमान नहीं कर सकते। पीड़िता या उसका परिवार पैसे नहीं मांग रहा, उन्हें न्याय चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here