DCW चीफ स्वाति मालीवाल ने केन्द्रीय गृह सचिव को भेजा नोटिस

0
>

दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर विशेष कार्यबल (STF) की बैठक टालने का कारण पूछते हुए केन्द्रीय गृह सचिव को एक ‘नोटिस’ जारी किया है। आयोग ने शहर में बच्चों के साथ बलात्कार के मामलों से निपटने के लिए हुए विचार विमर्श का ब्यौरा भी मांगा है। इसके अलावा दिल्ली में बच्चियों पर बढ़ते बलात्कार के मामले में उन्होंने दिल्ली के मुख्य सचिव केके शर्मा से मिलने का समय मांगा है।
DE28_DCW_CHAIRPERS_2489104f

Also Read:  विपक्ष की और से महात्मा गांधी के पोते गोपाल गांधी बन सकते है राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

जनसत्ता की खबर के अनुसार दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने बलात्कार के एक आरोपी की मनोवृत्ति और उत्तेजना के बारे में समझने के लिए दिल्ली पुलिस की पहल की प्रगति के बारे में भी सूचना मांगी है। साथ ही आयोग ने अभी तक प्राप्त तथ्यों की एक रिपोर्ट भी मांगी है।

मालीवाल ने इस नोटिस में कहा, ‘जैसा कि आपको पता है कि दिल्ली में बलात्कार के मामले विशेषकर बच्चों के साथ बलात्कार के मामले बढ़ रहे हैं। पिछले डेढ़ महीने में बलात्कार के 130 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं जिसमें से 50 मामले बच्चों से जुड़े हैं।

Also Read:  सुप्रीम कोर्ट में NEET के खिलाफ जंग छेड़ने वाली दलित छात्रा अनीता ने की खुदकुशी, सड़कों पर उतरे छात्र

खबर के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में बच्चियों के साथ बलात्कार के बढ़ते मामलों को गंभीरता से लेते हुए दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्लू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने इस समस्या से निपटने के उपायों पर चर्चा के लिए दिल्ली के मुख्य सचिव केके शर्मा से मिलने का समय मांगा है।

Also Read:  MCD चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और झटका, दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष बरखा शुक्ला ने दिया इस्तीफा

मालीवाल ने एक पत्र में कहा, ‘आप इस बात से वाकिफ हैं कि दिल्ली में बलात्कार के मामले विशेषकर बच्चों के साथ बलात्कार के मामले बढ़ रहे हैं। पिछले डेढ़ महीने में बलात्कार के 130 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं जिसमें से 50 मामले बच्चों से जुड़े हैं। इनमें से दो मामले महज एक वर्ष के शिशु के हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here