उच्च न्यायालय ने मंदिर में अनुसूचित जाति के लोगों के प्रवेश की इजाजत का आदेश दिया

0

मद्रास उच्च न्यायालय ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे पेरम्बलूर जिले में पासुम्बुलूर गांव के श्री महा मरियमन मंदिर में अनुसूचित जाति के लोगों को प्रवेश की इजाजत दी जाए.

Also Read:  कांगो में भारतीयों की दुकानों पर हमले, अफ्रीकी नागरिक की हत्या का रिएक्शन

न्यायमूर्ति एम सत्यनारायणन ने हिंदू धार्मिक एवं परमार्थ कोष विभाग, जिला कलेक्टर और मंदिर प्रशासन को निर्देश दिया. वनियार समुदाय के नेता के. सुब्रमणि की ओर से दायर याचिका पर अदालत ने यह निर्देश दिया. याचिकाकर्ता ने मांग की थी कि मंदिर में इस महीने उत्सव के दौरान अनुसूचित जाति के लोगों को जाने के इजाजत दी जाए.

Also Read:  शौच के समय वीडियो बनाए जाने का विरोध करने पर बिहार में महिला का गैंगरेप, प्राइवेट पार्ट्स में पिस्तौल और लकड़ी तक डाली

न्यायाधीश ने कहा, ‘‘दलीलों, तथ्यों और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए अदालत संबंधित प्रशासन को निर्देश देती है कि वह 16 सितम्बर तक आयोजित होने वाले उत्सव के दौरान अनुसूचित जाति के लोगों का मंदिर में प्रवेश और पूजा करने को सुनिश्चित करे.’’

Also Read:  नोटबंदी पर डा. मनमोहन सिंह के 10 महत्वपूर्ण विशलेषण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here