गुजरात तट से नहीं टकराएगा चक्रवाती तूफान ‘वायु’, लेकिन तेज हवाएं और भारी बारिश का अनुमान

0

चक्रवाती तूफान ‘वायु’ से निपटने के लिए चल रही तैयारियों के बीच गुजरात के लोगों के लिए राहत भरी खबर सामने आ रहीं है। मौसम जानकारों की माने तो चक्रवाती तूफ़ान वायु गुजरात से नहीं टकराएगा क्योंकि चक्रवात ने अपनी दिशा बदल दी है। बता दें कि, इससे पहले चक्रवाती तूफ़ान वायु को लेकर गुजरात के तटीय इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया गया था।

वायु
फाइल फोटो

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान ‘वायु’ गुरुवार को गुजरात के तटीय क्षेत्र से नहीं टकराएगा। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा था कि तूफान गुजरात तट से टकराएगा, लेकिन अब यह दिन में दोपहर बाद सौराष्ट्र क्षेत्र से होकर गुजरेगा।

आईएमडी की वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती ने मीडिया से कहा, “चक्रवाती तूफान वायु गुजरात तट पर दस्तक नहीं देगा। यह वेरावल, द्वारका, पोरबंदर के पास से होकर गुजरेगा।” मोहंती ने आगे कहा, “ऐसी संभावना है कि यह सौराष्ट्र तट के पास से उत्तर-उत्तर पश्चिमी और उसके बाद उत्तर-पश्चिम के पास से गुजरेगा।”

स्काईमेट वेदर ने कहा कि ‘बेहद तीव्र चक्रवात’ का यह तूफान वर्ग 2 के चक्रवाती तूफान से वर्ग 1 के चक्रवाती तूफान में कमजोर हो सकता है, वहीं वायुगति की रफ्तार 135 से 145 प्रतिघंटा हो सकती है, जिसके 175 प्रतिघंटा तक होने की संभावना है।

इससे पहले चक्रवात के द्वारका और वेरावल के बीच समुद्र तट से टकराने की संभावना जताई गई थी। हालांकि इसके पहले ही गुजरात से करीब 3 लाख लोगों और सौराष्ट्र से लगे हुए केंद्र शासित प्रदेश दीव से 10 हजार लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है। राज्य सरकार के साथ ही एनडीआरएफ और सेना ने कमान संभाली हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी हालात पर पैनी नजर बनाए हुए हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को लोगों को सुरक्षित रहने के लिए स्थानीय एजेंसियों द्वारा मुहैया कराई जा रही जानकारी का अनुसरण करते रहने के लिए कहा था। प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा था कि, ‘चक्रवात वायु से प्रभावित होने वाले सभी लोगों की सुरक्षा और हित के लिए प्रार्थना करता हूं। सरकार और स्थानीय एजेंसी जानकारी मुहैया करा रही हैं, जिसका मैं प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों से अनुसरण करने का अनुरोध करता हूं।’ (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here