LIVE: 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ओडिशा तट पर पहुंचा भीषण चक्रवाती तूफान फोनी, तेज हवाओं के साथ हो रही है भारी बारिश

0

बंगाल की खाड़ी में उठा भीषण चक्रवाती तूफान ‘फोनी’ प्रचंड रूप लेकर ओडिशा के तट पर पहुंच गया है। ओडिशा में इस समय तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है। तटीय ओडिशा में चक्रवात फोनी की वजह से बारिश और तेज हवाएं चलने के बीच राज्य सरकार ने 11 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा और लोगों से शुक्रवार को घरों में रहने की सलाह दी।

फोनी

विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) के मुताबिक, तटीय इलाकों से निकालकर लोगों को 880 चक्रवात केंद्रों, स्कूल-कॉलेज की इमारतें और अन्य ठिकानों जैसे सुरक्षित स्थानों पर ले जाया जा रहा है। ओडिशा के 14 जिले-पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, बालासोर, भद्रक, गंजम, खुर्दा, जाजपुर, नयागढ़, कटक, गजपति, मयूरभंज, ढेंकानाल और क्योंझर के चक्रवात की चपेट में आने की संभावना है। वहीं आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में चक्रवात का प्रभाव पड़ने की संभावना है।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने लोगों से अपील की है कि वे भीषण चक्रवाती तूफान के दौरान घरों के अंदर ही रहें और कहा कि लोगों की सुरक्षा के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं। भारतीय तटरक्ष बल और नौसेना ने भी राहत इंतजाम में अपने पोत और कर्मियों को तैनात किया है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में पार्टी कार्यकर्ताओं से चक्रवात प्रभावितों की मदद करने को कहा है।

देखिए लाइव अपडेट

  • पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी तटीय बेल्ट के पास खड़गपुर में रुकेंगी और कल और परसों स्थिति का स्वयं जायजा लेंगी। दो दिनों के लिए उनके सभी राजनीतिक अभियान रद्द कर दिए गए हैं। (ANI)
  • भीषण चक्रवाती तूफान फोनी के लिए केंद्रीय गृहमंत्रालय ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर: 1938
  • ‘बेहद खतरनाक’ फोनी तूफान ने पुरी के गोपालपुर और चांदबली के पास दी पहली दस्तक, इस दौरान 170-180 से लेकर 225 किमी प्रति घंटे तक की हवाएं चल सकती हैं। तूफान पहुंचने के 4-6 घंटे बेहद विनाशकारी माने जा रहे हैं। इसके बाद इसक असर कम होता चला जाएगा।
  • चक्रवात ‘फोनी’ के बाद के तूफान से निपटने के लिए भारतीय कोस्ट गार्ड ने विशाखापत्नम, चेन्नै, परादीप, गोपालपुर, हल्दिया, और कोलकाता में 34 टीमों को तैनात किया गया है। इसके इलावा विशाखापत्नम और चेन्नै में 4 कोस्टगार्ड शिप भी तैनात किए गए हैं।

ओडिशा के पुरी में ‘फोनी’ के लैंडफॉल के बाद ऐसा रहा मंजर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here