किसान आंदोलन पर मचे सियासी घमासान के बीच रिहाना के समर्थन में क्रिकेटर संदीप शर्मा ने किया ट्वीट, बाद में किया डिलीट

0

केंद्र सरकार के विवादित नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमा पर धरना दे रहे किसानों को 70 दिन से अधिक समय हो गए हैं और अब किसानों को पूरी दुनिया से समर्थन मिलने लगा है। हाल ही में अमेरिकी पॉप सिंगर रिहाना, मिया खलीफा, मीना हैरिस और ग्रेटा थनबर्ग समेत कई हॉलीवुड सितारों ने किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया। इस पर काफी बवाल मचा और बॉलीवुड समेत भारत के कई दिग्गज क्रिकेटरों ने इसे भारत का आंतरिक मामला बताते हुए लगभग सभी ने रिहाना का विरोध किया।

संदीप शर्मा

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली, पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, प्रज्ञान ओझा, युवराज सिंह और अजिंक्‍य रहाणे तक सभी ने ट्वीटर पर अपनी अपनी बात रखी। इस बीच भारतीय क्रिकेटर संदीप शर्मा ने भी इस मुद्दे पर अपनी राय रखी, उन्‍होंने रिहाना के समर्थन में ट्वीट किया था। हालांकि, कुछ ही देर बाद उन्‍होंने अपने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया।

संदीप शर्मा ने अपने पोस्ट के साथ कैप्शन में लिखा था, “इस तर्क से किसी को भी एक-दूसरे की परवाह नहीं करनी चाहिए क्योंकि हर स्थिति किसी ना किसी का अंदरूनी मामला होता है।”

संदीप ने अपने पोस्ट में लिखा था कि बहुत सारे लोग और विदेश मंत्रालय भी पॉप स्टार रिहाना की ओर से किसान आंदोलन का समर्थन करने पर उनकी यह कहते हुए आलोचना कर रहे हैं कि यह देश का आंतरिक मामला है। उन्होंने आगे लिखा कि अगर इस तरह देखें तो फिर तो कोई किसी की परवाह नहीं करेगा। अपने पोस्ट में संदीप ने अन्य कुछ देशों और हालात का उदाहरण भी दिया था।

संदीप का कहना था कि हर मामला किसी न किसी का अंदरूनी मामला ही होता है। क्‍या किसी को कुछ नहीं करना चाहिए। इस तर्क से तो किसी को भी एक दूसरे की परवाह नहीं करनी चाहिए। उन्‍होंने अपने पोस्ट में लिखा था कि रिहाना ने दुनिया से अपील की है कि भारतीय किसानों का समर्थन करना चाहिए।

उन्‍होंने कहा कि जर्मनी के बाहर के लोगों को वहां के ज्‍यूज पर हुए अत्‍याचारों पर कुछ नहीं कहना चाहिए था। पाकिस्‍तान के बाद किसी को भी वहां के हिन्‍दु, ईसाई, सिख आदि पर हो रहे अत्‍याचारों पर कुछ नहीं कहना चाहिए था। इस हिसाब से 1984 में हुए सिख दंगों पर भी किसी को कुछ नहीं बोलना चाहिए था।

अमेरिका के बाहर नस्‍लवाद पर किसी को कुछ नहीं बोलना चाहिए था। चीन में मुसलमानों पर हो रहे अत्‍याचारों पर सब लोग खामोश ही रहें। इसके साथ ही उन्‍होंने कुछ और उदाहरण सामने रखे और कहा कि सभी किसी न किसी के अंदरूनी मामले हैं।

हालांकि, ये ट्वीट पोस्‍ट होते ही तेजी से वायरल होने लगा और लोग इसपर तरह-तरह की अपनी प्रतिक्रियाएं देने लगे। लेकिन, कुछ ही देर बाद संदीप शर्मा ने अपना ये ट्वीट डिलीट कर दिया जिससे यूजर्स आश्‍चर्य में पड़ गए। लेकिन, उनके इस ट्वीट का स्‍क्रीन शॉट अब तेजी से वायरल हो रहा हैं।

हालांकि, ख़बर लिखे जाने तक ये साफ नहीं है कि संदीप शर्मा ने अपना ट्वीट खुद ही डिलीट किया या फिर किसी के दबाव में आकर उन्‍हें ये सब करना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here